अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प द्वारा हाल ही में मुस्लिमों के खिलाफ लिए गए उटपटांग फैसलों पर मुस्लिम समाज के लोगों ने कहा कि उन्हें न तो किसी तरह का डर है और न ही किसी तरह की उम्मीद है.

काउंसिल ऑन अमेरिकन इस्लामिक रिलेशंस’ (सीएआईआर) की शिकागो इकाई के लिए धनसंग्रह कार्यक्रम के लिए जुटे करीब 1,200 लोगों ने कहा कि यह लड़ाई सिर्फ हमारी लड़ाई नहीं है. ऐसे में न तो किसी तरह का डर है और न ही किसी तरह से किसी से भी कोई उम्मीद है.

कार्यक्रम में शामिल अहमद रिहाब नाम के शख्स ने कहा कि आप उन लोगों को देखिए जो लोग अच्छे लोगों को इस देश में आने से प्रतिबंधित करने का प्रयास कर रहे हैं. एेसे लोगों को रोका जा रहा है जिनका कोई अपराध नहीं है सिवाय इसके कि वे मुसलमान हैं.’’ इस समूह ने घृणा अपराधों में बढ़ोतरी के बारे में जानकारी दी.

गौतलब रहें कि ट्रंप ने राष्ट्रपति पद सँभालने के साथ ही सीरिया सहित 6 मुस्लिम देशों के नागरिकों के अमेरिका में प्रवेश करने पर रोक लगाने का आदेश पेश किया था. जिसके चलते अमेरिकी मुसलमानों में काफी रोष हैं. हालांकि अमेरिकी अदालतों इस आदेश पर दो बार पूरी तरह से रोक लगा दी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE