ईरानी सेना यानि आईआरजीसी के कमांडर ने अमेरिका पर गंभीर आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि मध्यपूर्व को युद्धग्रस्त बनाने के लिए अमरीका छह हज़ार अरब डालर ख़र्च कर चूका है.

गुरूवार को उत्तरी ईरान के आमुल नगर में आयोजित समारोह में कमांडर इस्माईल क़ाआनी ने कहा कि अमेरिका ने छह हज़ार अरब डालर ख़र्च करके मध्यपूर्व में युद्ध भड़काया किंतु उसको इससे कोई लाभ नहीं हुआ.

और पढ़े -   यमन, रोहिंग्या सहित कई मुद्दों पर ईरानी राष्ट्रपति का संयुक्त राष्ट्र महासभा बैठक में विमर्श

उन्होंने कहा, पिछले एक दशक के दौरान अमेरिका ने अपने पश्चिमी घटकों की सहायता से आतंकवादी संगठन को पैदा कर उन्हें मध्यूपर्व में खून-खराबा करने के लिए तैयार किया. जो इस्लाम के नाम पर मुस्लिमों की जान ले रहे है.

क़ाआनी ने कहा कि फिर तथाकथित आतंकवाद विरोधी अभियान की आड़ में आतंकवादियों की सहायता की गई और क्षेत्र में जारी युद्ध को अधिक जटिल बना दिया गया.

और पढ़े -   रोहिंग्या मुस्लिमों का नरसंहार को रोक सकता है सिर्फ ये शख्स

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE