if-saddam-hussain-and-gaddafi-had-atom-bomb कोरिया प्रायद्वीप में लगातार बढ़ते तनाव के बीच उत्तरी कोरिया ने धमकी दी है कि वह किसी भी जगह और किसी भी समय परमाणु परीक्षण कर सकता है. प्रत्युत्तर में अमेरिका, दक्षिण कोरिया, जापान और ऑस्ट्रेलिया ने उत्तर कोरिया को परमाणु परीक्षण करने पर गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी है. उत्तरी कोरिया की इस धमकी के बाद दुनिया पर तीसरे विश्वयुद्ध का खतरा मंडराने लगा है. ये युद्ध पूरी तरह परमाणु युद्ध होने के साथ साथ जैविक और रासायनिक भी होगा.

North Korea, angered by the legendary land, warning of stringent restrictions

दूसरी ओर उत्तरी कोरिया पर हो रही अमेरिकी बयानबाजी को देखते हुए रूस और चीन ने किसी भी गलत कदम के भयानक परिणामों के बारे में सचेत किया है. इधर, जापान ने युद्ध की आशंका को देखते हुए अपने सबसे विनाशकारी युद्धपोत को कोरिया प्रायद्वीप की ओर भेज दिया है. वहीँ ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल ने भी चेतावनी दी है कि उनका देश और अमेरिका क्षेत्रीय शांति के लिए उत्तर कोरिया के दुस्साहसी, खतरनाक इरादों को कतई बर्दाश्त नहीं करेगा.

और पढ़े -   रोहिंग्या संकट को लेकर म्यांमार में भेजी जा सकती है सेना, ईरान और पाक सैन्य प्रमुख में हुई बातचीत

उत्तरी कोरिया लम्बी दूरी की किसी मिसाइल या सातवें परमाणु परीक्षण की तैयारी कर रहा है, इस बारे में लम्बे समय से अलग-अलग कयास लगाये जा रहे हैं. अमेरिका इसकी जवाबी कारवाई में किसी सैन्य हमले की आशंका को ख़ारिज करने से साफ़ इनकार कर रहा है. इस सब के चलते कोरियाई प्रायद्वीप में तनाव कई हफ़्तों से अपने चरम पर है.

और पढ़े -   म्यांमार को रोहिंग्या मुस्लिमों को वापस बुलाना ही होगा: शेख हसीना

उत्तर कोरिया के विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि उनका देश अमेरिका की तरफ से उठाए जाने वाले किसी भी कदम का जवाब देने के लिए पूरी तरह तैयार है. गौरतलब है कि उत्तर कोरिया ने पिछले 11 साल में पांच परमाणु परीक्षण किए हैं और माना जाता है कि वह अमेरिका तक परमाणु हथियारों को पहुंचाने की क्षमता वाली मिसाइल बनाने की दिशा में प्रगति कर रहा है.

और पढ़े -   नेतन्याहू के साथ अल-सिसी की बैठक, मिस्री राष्ट्रपति बोले - फिलिस्तीनी इजरायलियों के साथ मिलकर रहे

उत्तरी कोरिया से बढ़ते परमाणु खतरों को लेकर उपजे तनाव के बीच अमेरिका की खुफिया एजेंसी सीआईए के निदेशक माइक पोम्पिओ एक आतंरिक बैठक के सिलसिले में दक्षिणी कोरिया में हैं. सीआईए निदेशक के अघोषित दौरे की रिपोर्टों के बाद सोल में अमेरिकी दूतावास ने इसकी पुष्टि की है.

दक्षिण कोरिया के एक दैनिक समाचार पत्र की एक खबर के मुताबिक पोम्पिओ सप्ताहांत में दक्षिण कोरिया पहुंचे और उन्होंने देश की खुफिया एजेंसी के प्रमुख और वरिष्ठ प्रेजिडेंशियल अधिकारियों के साथ बंद कमरे में लगातार बैठकें की.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE