Syrian-refugee-JPEG2

बीबीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार सीरिया में 62,000 से ज़्यादा लोग भुखमरी के कगार पर हैं. इनके पास खानें को कुछ भी नहीं हैं. भोजन की कमी के कारण इन लोगों की मौत भी हो सकती हैं.

दमिश्क में संयुक्त राष्ट्र के संयोजक याक़ूब अल हिलो ने अपील की है स्वास्थ्य कारणों से इलाके से लोगों को बाहर निकाला जाए और बिना शर्त उन्हें मानवीय मदद मुहैया कराई जाए.

इस बीच, रेड क्रास की अंतरराष्ट्रीय कमिटी ने बीते साल दिसंबर में ख़ुद को इस्लामिक स्टेट कहने वाले समूह के कब्ज़े से छुड़ाए गए ईराक़ी शहर रमादा की तबाही का वीडियो जारी किया है. यह वीडियो ड्रोन के ज़रिए शूट किया गया है.

रेड क्रास की अंतरराष्ट्रीय कमिटी के अध्यक्ष पीटर मौरर का कहना है, “लोगों की तकलीफ़ें बेहद बढ़ गई हैं. सैंकड़ों हज़ारों लोग मारे गए हैं. लाखों लोग शहर छोड़ रहे हैं. परिवार बिखर गए हैं. रमज़ान का महीना ख़त्म होने को है, लेकिन कई लोग अभी भी डर और अनिश्चितता के माहौल में हैं.” उन्होंने कहा “एक मानवीय तबाही हमारे सामने है. सभी के लिए हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं.”


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें