म्यांमार सेना का रोहिंग्या मुस्लिमों पर जुल्म थमने का नाम नहीं ले रहा है. म्यांमार सेना ने 6 और रोहिंग्या मुस्लिमों  की गोली मार के हत्या कर उनका शव चुपचाप दफना दिया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, उखीय में स्थानीय लोगों के जरिए इन लोगों को दफन कर दिया गया, कथित तौर पर म्यांमार सुरक्षा बल ने राखिने के मोंगडाव के कबाड़ गांव में इन लोगों की गोली मार कर हत्या कर दी थी.

और पढ़े -   रोहिंग्या मुस्लिमों का नरसंहार को रोक सकता है सिर्फ ये शख्स

बांग्लादेश में नाफ नदी के किनारे एक सीमावर्ती गांव अंजुमनपाड़ा में रह रहे मृतक के रिश्तेदार अब्दुल लतीफ को उनकी लाश ले जाने के बारें में जानकारी दी गई थी.

म्यांमार की सेना ने लगभग दोपहर 12 बजे मौंगडौ में डेकोबुनिया के टोम्बाजार में एक अभियान चलाया था. इस दौरान रोहंग्या गांव में भारी गोलीबारी की गई. जिसके चलते एक महिला सहित छह रोहिंग्याओं की मौत हो गई.

और पढ़े -   बांग्‍लादेश ने भारत को चेताया - नहीं रुका रोहिंग्याओं का पलायन तो पुरे क्षेत्र में पैदा होगा खतरा

मृतक के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई. स्थानीय लोगों ने अंजुमनपाड़ा में बॉर्डर अवलोकन पोस्ट के बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के सदस्यों को इस की जानकारी दी.

उखिया पुलिस स्टेशन के ऑफिसर इन-चार्ज (ओसी) महमूद अबुल खैर ने कहा कि घटनास्थल पर जाकर, चार पुरुष और एक महिला की शव मिला. जिस्नके शरीर पर गोलियों के घाव के निशान थे. वहीँ दुसरे व्यक्ति के शरीर में बुलेट की चोट नहीं थी.

और पढ़े -   नेतन्याहू के साथ अल-सिसी की बैठक, मिस्री राष्ट्रपति बोले - फिलिस्तीनी इजरायलियों के साथ मिलकर रहे

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE