hj

पाकिस्तान में नौसेना के पांच अधिकारियों को मृत्युदंड की सज़ा सुनाई गई है नौसेना की एक अदालत ने डिप्टी लेफ़्टीनेंट हम्माद अहमद और नौसेना के चार अन्य अधिकारियों को कराची में नौसेना के ठिकाने पर 6 सितम्बर 2014 को हुए हमले में लिप्त पाया है।

जिन अधिकारियों को मौत की सज़ा सुनाई गई है उनके बारे में कहा जाता है कि वह आतंकियों से संबंध रखते हैं। उन पर आरोप है कि उन्होंने अमरीकी नौसेना के ईंधन संबंधी एक जहाज़ पर हमला करने के लिए एक पाकिस्तानी जहाज़ के अपचालन की साज़िश रची थी।

और पढ़े -   ट्रम्प की सऊदी अरब की यात्रा का मकसद मध्य पूर्व के लिए नाटो की तरह एक संगठन बनाना

हम्माद के पिता सेवानिवृत मेजर सईद अहमद ने डॉन अखबार को बताया कि पांचों को आतंकवादी संगठन के साथ संबंध रखने, विद्रोह करने, साजिश करने और गोदी में हथियार ले जाने को लेकर आरोपित किए गए हैं। हमले के दौरान सुरक्षाबलों की कार्रवाई में दो आतंकवादी मारे गए और चार अन्य पकड़े गए। सईद ने कहा कि नौसेना के अधिकारियों ने उनके बेटे को निष्पक्ष सुनवाई का अधिकार नहीं दिया।

और पढ़े -   डोनाल्ड ट्रंप पहुंचे सऊदी अरब - 100 बिलियन डॉलर का होगा रक्षा सौदा, अरब नाटो पर भी बनेगी राय

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE