अपनी जान बचाकर भाग रहे रोहिंग्या मुस्लिमों को मारने के लिए म्यांमार ने सीमा पर बारूदी सुरंग बिछा दी है. इस सुरंग के चपेट में आने से रोहिंग्या मुस्लिमों की मौत की खबर है.

दैनिक बंगाल ट्रिब्यून को एक सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि बांग्लादेश में बंदरबान की नायकोंगछारी सीमा पर विस्फोट हुआ है, मरने वाले शरणार्थी राखीन राज्य में हिंसा से जान बचाकर भाग रहे थे.

और पढ़े -   किम जोंग का ट्रम्प को जवाब - ताकत में अब दोनों बराबर, आँखे दिखाने की जरुरत नहीं

ध्यान रहे शनिवार को ही मानवाधिकार संगठन एम्नेस्टी इंटरनेशनल ने चेतावनी दी थी कि शरणार्थियों की वापसी को रोकने के लिए म्यांमार सेना ने बांग्लादेश के साथ अपनी सीमा पर लैंड माइंस बिछाई है.

रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक़, म्यांमार की सेना सीमा पर कांटेदार तारों की बाड़ के साथ-साथ बारूदी सुरंगें बिछाई है. इस की पुष्टि बांग्लादेश सीमा सुरक्षा के एक अधिकारी मंज़ूरुल हसन ख़ान ने की थी.

और पढ़े -   रोहिंग्या मुस्लिमों का नरसंहार को रोक सकता है सिर्फ ये शख्स

गौरतलब रहें कि सयुंक्त राष्ट्र के मुताबिक़ म्यांमार में हिंसा के चलते 1000 से ज्यादा रोहिंग्या मारे जा चुके है तो करीब 270000 रोहिंग्या बांग्लादेश पलायन कर चुके है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE