अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने लाखों अवैध अप्रवासियों को देश से निकाले जाने की योजना में छूट के प्रस्ताव को गुरुवार को रद्द करते हुए भारत को बड़ा झटका दिया है. ट्रम्प के इस फैसले अमेरिका में रह रहे 3 लाख इंडियन को अमेरिका से निकाला जा सकता है.

पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 2014 में “डेफर्ड एक्शन फॉर पेरेंट्स ऑफ अमेरिकंस एंड लॉफुल पर्मनेंट रेसिडेंट्स” यानी “डापा” नीति के तहत अवैध अप्रवासियों को राहत दी थी. जिसके जरिए उन 40 लाख लोगों को राहत मिलना थी, जो 2010 के पहले से अमेरिका में रह रहे हैं, जिनकी संतानों ने अमेरिका में जन्म लिया और उनका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है.

और पढ़े -   अमेरिका और ब्रिटेन ने सीरिया में आतंकियों को दिए ज़हरीले बमः रूस

हालांकि ट्रंप प्रशासन 2012 की “डेफर्ड एक्शन फॉर चाइल्डहुड अराइवल्स” यानी “डैका” नीति को बने रहने देगा. इसके तहत, अमेरिका में गैर-कानूनी तरीके से प्रवेश करने वाले नाबालिग बच्चों को अस्थाई राहत देगा. उन्हें अमरीकी स्कूलों में पढ़ाई पूरी करने तक ठहरने की अनुमति मिलेगी.

मानवाधिकार संगठनों का कहना है कि नए आदेश से मानवीय संकट पैदा होगा क्योंकि अवैध अप्रवासियों के बच्चे अमेरिका में जन्मे हैं और वे वैध नागरिक हैं. ऐसे में उनके माता-पिता को निकाला गया तो बड़ा मानवीय संकट खड़ा होगा.

और पढ़े -   सेबी ने जारी की फर्जी चिटफंड कंपनियों की सूची, भूलकर भी ना करे इनमे निवेश

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE