अभिनेता व फिल्म निर्माता कमल हासन ने शुक्रवार को जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) को लेकर कहा कि 28 फीसदी टैक्‍स के कारण क्षेत्रीय सिनेमा तबाह हो जाएगा.

कमल ने कहा कि हम तहे-दिल से जीएसटी और एक भारत, एक कर का स्वागत करते हैं. लेकिन, वर्तमान दरों को संशोधित करने की जरूरत है, नहीं तो यह क्षेत्रीय सिनेमा को तबाह कर देगी.

और पढ़े -   बिहार के बाढ़ पीड़ितों के लिए आगे आए आमिर, लोगों से की ये मार्मिक अपील

कमल हासन ने वित्त मंत्री अरुण जेटली से गुजारिश करते हुए कहा कि सिनेमा टिकट पर जीएसटी की दर को 12 से 15 फीसदी ही रखा जाए. उनका कहना है कि अगर ऐसा नहीं होता है तो फिल्म इंडस्ट्री को काफी नुकसान होगा.

हासन ने एक तरह से धमकी देते हुए कहा कि अगर जीएसटी की प्रस्तावित दर बरकरार रही तो उन्हें फिल्म इंडस्ट्री छोड़नी पड़ जाएगी.

और पढ़े -   रेणुका शहाणे का तारिक फतेह को जवाब: नफरत की जुबान बोलने वाले क्या जाने उर्दू की मिठास

उन्होंने कहा, ‘उद्योग की तरफ से हमने जीएसटी की दर को 12-15 फीसदी रखने का आग्रह किया है. वर्तमान दर पर मैं इतना कर नहीं चुका सकता और मुझे बाहर निकलने पर मजबूर होना पड़ेगा. हमें याद रखना चाहिए कि यह ईस्ट इंडिया कंपनी का दौर नहीं है.’


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE