ay

करन जौहर की बहुप्रतिक्षित फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ खुद मुश्किलों में फंसती नजर आ रही हैं. सिनेमा ऑनर्स और एग्ज‍िबि‍टर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सीओइएआई) ने  ‘ऐ दिल है मुश्किल’ सिंगल स्क्रीन सिनेमाघरों में रिलीज करने से मना कर दिया.

सिनेमा ओनर्स एंड एक्ज़िबिटर्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया’ ने मुंबई में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ़्रेंस के माध्यम से अपने फ़ैसले की जानकारी देते हुए कहा है कि वो पाकिस्तानी कलाकारों की फ़िल्म अपने सिनेमाघरों में नहीं दिखाएगी. याद रहें कि फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ में पाकिस्तानी अभिनेता फवाद खान भी हैं.

और पढ़े -   नवाजुद्दीन की गुमनाम जिंदगी से मायानगरी तक के सफर पर आ रही किताब

संगठन के सदस्य और सेंसर बोर्ड अध्यक्ष पहलाज निहलानी ने कहा है कि फिल्म पर किसी तरह का बैन नहीं लग रहा है. निहलानी ने कहा ‘जो फिल्में भारत-पाकिस्तान के बीच रिश्ते खराब होने से पहले शूट कर ली गई हैं, उन पर असर नहीं पड़ना चाहिए. एक बार जब सेंसर बोर्ड फिल्म को पास कर दे तो किसी संगठन को फिल्म को नहीं दिकाने या बैन करने का हक़ नहीं है.’

और पढ़े -   रोहिंग्या मुस्लिमों पर हो रहे जुल्म को पुरे विश्व को मिलकर रोकना होगा: शबाना आज़मी

गौरतलब है कि यह संगठन खासतौर पर सिंगल स्क्रीन थिएटर से जुड़ा हुआ है, न की मल्टीप्लेक्स से और गुजरात, गोवा, महाराष्ट्र और कर्नाटक में इसके सदस्य है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE