ami

बॉलीवुड महानायक अमिताभ बच्चन 11 अक्टूबर को 74वां बर्थडे सेलिब्रेट करने जा रहें हैं. इस मौके पर हम आपको अमिताभ बच्चन के इकलोते मंदिर के बारें में बताते हैं जिसमे उनकी तस्वीर के साथ उनके जूतों की भी पूजा की जाती हैं.

इस मंदिर में रोज 6 मिनट की अमितांह की फिल्मी आरती गाकर की जाती हैं. साथ ही 9 पन्ने की खास अमिताभ चालीसा भी पढ़ी जाती है. मंदिर में जिन जूतों की पूजा की जाती हैं वो अमितभ ने अग्निपथ मूवी में पहने थे. अक्स मूवी में जिस कुर्सी पर वो बैठे दिखे थे, वह भी यहाँ पर मौजूद हैं. इसी पर अमिताभ की फोटो रखकर रोज पूजा-आरती होती है.

कोलकाता के श्रीधर राय रोड़ पर बने इस मंदिर को 2001 में संजय पटौदिया ने बनवाया था. इस मंदिर में खुद अमिताभ ने ये जूते और कुर्सी 2001 में संजय की रिक्वेस्ट पर भेजे थे.

संजय अमिताभ को अपना भगवान मानते हैं. उन्होंने कहा कि अमिताभ हमारे भगवान हैं. हमने पूरी श्रद्धा के साथ उनकी 9 पन्ने की अमिताभ चालीसा और आरती गीत भी बनाया है. जिसमे उनकी उपलब्धियों और संघर्ष की बात लिखी है. साथ ही संजय ने ‘अमिताभ नम:’ के नाम से संकट मिटाने वाला मंत्र भी तैयार किया है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें