यूपी के नोएडा से सटे दादरी के बिसाहड़ा गांव में गोहत्या का आरोप लगाकर मुस्लिम युवक अखलाक की हत्या पर बनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘द ब्रदरहुड’ का मंगलवार की शाम को ट्रेलर रिलीज किया गया. इस डॉक्यूमेंटरी को मीडियाकर्मी पंकज पाराशर ने निर्देशित किया है.

सामाजिक मुद्दों पर इससे पहले भी कई फिल्म बना चुके पंकज ने कहा कि ऐसी दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं परेशानी तो पैदा कर सकती हैं लेकिन हिन्दू और मुस्लिमों के बीच गहरे रिश्तों को खत्म नहीं कर सकती है. उन्होंने कहा, “ ‘द ब्रदरहुड’ में बिसाहड़ा कांड और अखलाक की हत्या से पैदा हुई परिस्थितियों को दर्शाया है.

पंकज के मुताबिक 28 सितंबर 2015 की रात दादरी के गांव बिसाहड़ा में गोहत्या के आरोप में अखलाक की हत्या के बाद राजनीतिक फायदे के लिये ऐसा माहौल बनाया गया कि हिन्दू और मुसलमान साथ नहीं रह सकते, लेकिन वहां की तस्वीर बिल्कुल अलग है.

फिल्म में भाटी गोत्र के हिन्दुओं और मुसलमानों के इतिहास को दिखाने के लिए जैसलमेर, सोमनाथ और ग्रेटर नोएडा के का फिल्मांकन किया गया है. सन् 1857 की क्रांति से जुड़ी कई ऐतिहासिक घटनाएं ‘द ब्रदरहुड’ में देखने को मिलेंगी जो पश्चिमी उत्तर प्रदेश के इतिहास में मायने रखती हैं। इनसे दोनों समुदायों के बीच संबंधों की गहराई पता चलती है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE