मुंबई: कुछ दिन पहले असहिष्णुता के विषय पर दिए गए अपने बयान से विवाद खड़ा कर चुके अभिनेता शाहरुख खान ने सोमवार को कहा कि बोलने की आजादी का मतलब चुप रहने का अधिकार भी होता है।

शाहरुख ने कहा, बोलने की आजादी का मतलब चुप रहने का अधिकार भीवह अपनी आने वाली फिल्म ‘फैन’ के ट्रेलर लांच के मौके पर बोल रहे थे। असहिष्णुता के मुद्दे पर अपने बयान के बाद के अनुभव के बारे में पूछे जाने पर शाहरुख ने यह बयान दिया।

और पढ़े -   पाक फैंस ने कोहली से की बदतमीजी - अब बताओ बाप कौन है, मो. शमी मारने दौड़े - धोनी ने बचाया

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE