salman

बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान फिल्‍मों में विलेन नहीं बनना चाहते वो सिर्फ हीरो ही बनना चाहते हैं. एक इंटरव्‍यु में सलमान ने कहा कि वे अगर वास्‍तविक जीवन में नहीं तो अपनी फिल्‍मों के जरिये ही लोगों को सकारात्‍मक हीरो जैसे काम करने के लिए इंस्‍पायर करना चाहते हैं, इसलिए वो कोई भी निगेटिव रोल नहीं करना चाहते हैं.

सलमान ने कहा कि “मुझे वो जेनर ही पसंद नहीं है. मैं विलेन नहीं बनना चाहता क्योंकि मैं अपनी ऑडिएंस का मनोरंजन करने में यकीन रखता हूं. मुझे हीरो बनना पसंद है. एक ऐसा आदमी जिसकी यादों को लोग अपने साथ सजों कर रख सकें. और, एक बात ये भी है कि अगर मैं असल जिंदगी में अच्छी छवि नहीं बना सकता तो सिनेमा में तो अच्छी छवि वाले किरदारों को प्ले कर सकता हूं. मैं यही करना चाहता हूं”

सलमान आगे कहते हैं आगे कहते हैं कि मैं हिंदी फिल्मों का हीरो हूं और इस देश में हीरो का मतलब हीरो है. अंत में वो जीतता है, चाहे किसी के लिए भी लड़ रहा हो. और मैं वही करता हूं. अपने फैन्स के लिए.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें