करीना ने बढ़ते हुए इन्टोलेरेंस को कम करने के लिए अपना सुझाव भी दिया

पिछले कुछ महीनों से ‘इन्टोलेरेंस’ शब्द कुछ ज्यादा ही सुनाई दे रहा है। 1 साल पहले तक ये शब्द किसी ने सुना भी नहीं था लेकिन आज हर कोई इसी के बारे में बात कर रहा है। कोई कहता है की मोदी सरकार की वजह से इन्टोलेरेंस बढ़ गया है तो कोई कहता है देश असुरक्षित है। जहाँ देखो वहां लोग बस अपनी अपनी बात कह रहें हैं। इन्टोलेरेंस मुद्दे पर शाहरुख़ खान और आमिर खान पहले ही बोल चुके हैं। दोनों ने अलग अलग इंटरव्यू में कहा था की देश में इन्टोलेरेंस बढ़ गया है। इनके स्टेटमेंट के बाद खूब बवाल मचा और अब एक और सेलेब्रिटी ने इनकी हाँ में हाँ मिलाते हुए कहा है की उन्हें भी लगता है की देश में इन्टोलेरेंस है।

और पढ़े -   हर्लेडेविडसन पर गाय के चमड़े से बने सामान बेचने का आरोप लगाने वाले एजाज खान को प्रधानमंत्री कार्यालय से मिला जवाब

DNA में छपे एक आर्टिकल के मुताबिक करीना कपूर खान इन्टोलेरेंस पर कहती हैं की “बहुत सारी आवाज़ सब कुछ ख़राब कर रहें हैं। हर कोई… हर मुद्दे पर अपनी राय दे रहा है। या तो उन्हें किसी विवाद में घिरना है या फिर उन्हें नहीं भी घिरना है तो भी लोग कमेंट करेंगे और विवाद में खिंच लेंगे। हर बात पर बहुत ज्यादा चिल्लाना और रोना है। ट्विटर पर लोगों की राय से ना सरकार के सोचने का तरीका बदलेगा और ना ही समाज का। पोलिटिकल पार्टीज को पहले ये सब बदलना चाहिए”।

और पढ़े -   जीत के बाद बोले सरफराज - खोने के लिए कुछ नहीं था लेकिन अब हम चैंपियन हैं

आमिर खान के इन्तोलेंस कमेंट पर पूछे जाने पर करीना का कहना है की “मुझे नहीं लगता की उन्होंने कुछ गलत कहा है। उन्होंने सिर्फ एक डर के बारे में बात की। वो अपने और अपनी पत्नी के बीच की बातचीत बता रहें थे। मुझे नहीं लगता की उनका मकसद किसी को हानि पहुंचाने का था। जब भी कोई अपनी राय देगा तो गुस्सा और अशांति हमेशा होगी। इंडिया इमोशनल लोगों से बना हुआ है”

और पढ़े -   पाक फैंस ने कोहली से की बदतमीजी - अब बताओ बाप कौन है, मो. शमी मारने दौड़े - धोनी ने बचाया

करीना ने बढ़ते हुए इन्टोलेरेंस को कम करने के लिए अपना सुझाव भी दिया। वो कहती है लोगों को इस बात का ज्ञान रहना चाहिए की क्या चल रहा है। साथ ही वोट करने के पहले उस पार्टी और कैंडिडेट के बारे में जान लें जिसे वो वोट करने वाले हैं।

अब करीना कपूर की बात सही है या गलत ये तो हम नहीं जानते लेकिन आम लोगों की तरह ये उनकी अपनी राय है। (india.com)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE