radhika-apte

बदलापुर, मांझी जैसी फिल्मों में अपनी खूबसूरती और अभिनय का लोहा मनवाने वाले राधिका आप्टे ने पाकिस्तानी कलाकारों को भारत में रहकर काम करने के पक्ष में बयान दिया है.

राधिका का कहना है की ‘मुझे लगता है कि जब कोई स्विस घड़ी कंपनी देश में आ सकती है और अपने कॉर्पोरेट स्टोर खोल सकती है तो मेरा मानना है कि पाकिस्तानी कलाकार को भी यहां आना चाहिए और भारत में काम करना चाहिए। यही मेरी राय है।

उरी हमले के मद्देनजर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने फवाद खान और माहिरा खान जैसे पाकिस्तानी अदाकारों से भारत छोड़ने को कहा था और ऐसा नहीं करने पर उनकी फिल्मों की शूटिंग रोकने की धमकी दी थी। उन्होंने भारतीय फिल्म जगत में काम कर रहे पाकिस्तानी कलाकारों पर प्रतिबंध की मांग उठाई थी।

इस मुद्दे पर प्रतिक्रिया को लेकर बॉलीवुड बंटा हुआ है। सोमवार को बॉलीवुड के वरिष्‍ठ अभिनेता नाना पाटेकर ने कहा था कि ‘देश और जवान सबसे बड़े हैं और फिल्‍मी सितारों की हालत उनके सामने खटमल जैसी है।’ निर्माता-निर्दशक करण जौहर का कहना है कि ‘क्‍या पाकिस्‍तानी कलाकारों को वापस भेजने से समस्‍या का हल निकल जाएगा।’ करण की आने वाली फिल्‍म ‘ए दिल है मुश्किल’ में पाकिस्‍तानी कलाकार फवाद खान नजर आने वाले हैं। फिल्‍म निर्माता अनुराग कश्‍यप ने कहा है कि ‘कलाकार, कलाकार होता हैै, आतंकी नहीं।’ वरिष्‍ठ अभ‍िनेता आेम पुरी के बयान पर भारी विवाद हुआ।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें