अमेरिका में फिल्म स्टार शाहरुख खान के अपमान पर शिवसेना ने सामना के संपादकीय में इस घटना पर गहरी नाराजगी जताते हुए अमेरिका पर गुस्सा उतारते हुए पूछा है कि बार बार शाहरुख खान का अपमान क्यों किया जाता है ?

शिवसेना ने ‘सहिष्णु अभिनेता’ के बार-बार अमेरिका जाने का जिक्र करते हुए कहा कि यदि वह लौटने का फैसला कर लेते तो यह अमेरिका के मुंह पर एक तमाचा होता.  शिवसेना ने कहा, ‘‘उन्हें स्वाभिमानी रुख दिखाते हुए लौट आना चाहिए था और अमेरिका को बताना चाहिए था कि ‘‘यदि तुम इस तरह से मेरा अपमान करने वाले हो तो मैं तुम्हारे देश में कदम नहीं रखूंगा.’’

शिवसेना के संजय राउत ने कहा कि तीसरी बार अमेरिकी इमीग्रेशन में उन्हें रोका जाना बेहद चिंता की बात है. पहले उन्हें न्यूयॉर्क में रोका गया, फिर न्यू जर्सी और इस बार लॉस एंजेलिस में ऐसा होना बेहद गलत है. शाहरुख खान देश की बेहद चर्चित हस्ती है, मशहूर सिलेब्रिटी है और सिर्फ उनका नाम खान होने की वजह से बार-बार ऐसा अपमान होना किसी भी तरह स्वीकार नहीं किया जा सकता है.
हालांकि उन्होंनें दूसरे तरीके से ये भी कहा कि शाहरुख खान जैसी सिलेब्रिटी को स्वाभिमान दिखाना चाहिए और जिस देश में उनका बार बार अपमान होता रहा हो वहां उन्हें खुद ही अमेरिका ना जाने का फैसला करके अपने आत्म सम्मान को ऊंचा दिखाना चाहिए. शाहरुख खान ने भारत को असहिष्णु देश कहा और फिर वो ऐसे देश बार बार क्यों जा रहे हैं जहां इस तरह का असहिष्णु व्यव्हार उनके साथ होता रहता है. उन्हें तो तय कर लेना चाहिए कि वो अमेरिका की धरती पर कभी पैर नहीं रखेंगे.
और पढ़े -   पिता की सेहत के लिए दुआ मांगने ख्वाजा के दरबार में पहुंचे अजय देवगन

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE