‘होमोसेक्‍शुअलिटी’ के मुद्दे पर ‘दोस्‍ताना’ जैसी फिल्‍म बना चुके करन जौहर ने कहा कि एक फिल्‍म मेकर के तौर पर वह काफी बंधन महसूस करते हैं। उन्‍हें ऐसा लगता है कि उन्‍हें जैसे हमेशा लीगल नोटिस उनका पीछा करता रहता है।

बिहार चुनाव के बाद ठंडे बस्‍ते में चला गया असहिष्‍णुता का मुद्दा एक बार फिर गरमा गया है। इस बार विवाद खड़ा किया है बॉलीवुड फिल्‍मेमकर करन जौहर ने। नौंवें जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल के दौरान उन्‍होंने कहा, ‘भारत जैसे में पर्सनल लाइफ के बारे में बात करना आसान नहीं है। यहां ऐसी बातें करने पर आप सलाखों के पीछे भी जा सकते हो।’ करन जौहर ने अपनी बायोग्राफी ‘द अनसूटेबल बॉय’ के बारे में लेखक और पत्रकार शोभा डे के साथ बातचीत के दौरान ये बातें कहीं।

‘होमोसेक्‍शुअलिटी’ के मुद्दे पर ‘दोस्‍ताना’ जैसी फिल्‍म बना चुके करन जौहर ने कहा कि एक फिल्‍म मेकर के तौर पर वह काफी बंधन महसूस करते हैं। उन्‍हें ऐसा लगता है कि उन्‍हें जैसे हमेशा लीगल नोटिस उनका पीछा करता रहता है। उन्‍होंने कहा, ‘मैं असहिष्‍णुता पर नहीं बोलूंगा, क्‍योंकि मैं उन लोगों का हाल देख चुका हूं, जिन्‍होंने इस पर बात की। ‘AIB रोस्‍ट’ को लेकर विवाद पर बोलते हुए उन्‍होंने खुद को ‘एफआईआर किंग’ करार दिया। करन जौहर ने कहा कि आप गवर्नेंस के तरीके बदल सकते हो, लेकिन एक आम आदमी जिन बातों को लेकर संवेदनशील है, उसमें कैसे बदलाव करोगे। साभार: जनसत्ता


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें