Dilip Kumar Admitted To Lilavati Hospital In Mumbai

ट्रेजडी किंग के नाम से मशहूर बॉलीवुड के महान अभिनेता दिलीप कुमार की तबियत नासाज़ है जिस कारण उन्हें लीलावती अस्पताल में भर्ती किया गया है हॉस्पिटल के डॉक्टरों का कहना है की अगर 48 घंटो में रिकवर नही किया जाता है तो ICU में शिफ्ट करना पड़ेगा

दिलीप कुमार का इलाज कर रहे डॉक्टर जलील पारकर ने बताया कि कल उन्हें(दिलीप साहब) बुखार था। उल्टियां भी हो रही थीं। शुरुआती जांच से ऐसा जान पड़ रहा है कि उनकी छाती संक्रमित है। अगले 72 घंटे काफी महत्वपूर्ण हैं। अगर अगले 48 घंटों में उनकी सेहत में कोई सुधार नहीं आता है, तो हम उन्हें आईसीयू में शिफ्ट कर देंगे।

और पढ़े -   एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद भी नहीं रहे विवादों से अछूते, कुमार विश्वास ने भी उठाये सवाल

गौरतलब है कि अभिनेता दिलीप कुमार 93 साल को हो चुके हैं। बढ़ती उम्र की वजह से उनकी सेहत अब ठीक नहीं रहती, जिसकी वजह से दिलीप कुमार अक्सर रूटीन चेकअप के लिए लीलावती अस्पताल जाते रहते हैं। बीते साल दिसंबर में उनको पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने अभिनेता के घर जाकर उन्हें सम्मानित किया था। उनके साथ महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी मौजूद थे।

और पढ़े -   केआरके ने सुधीर चौधरी को बॉर्डर पर भेजेने की दी सलाह, ट्विटर पर दोनों के बीच हुई जबरदस्त भिडंत

नहीं पहुंच सके थे राष्‍ट्रपति भवन भी
याद दिला दें कि खराब स्वास्थ्य की वजह से दिलीप कुमार राष्ट्रपति भवन में आयोजन समारोह में भी हिस्सा नहीं ले सके थे। उस दौरान भी उनकी तबियत ठीक नहीं थी। बॉलीवुड में ट्रेजडी किंग के नाम से मशहूर दिलीप कुमार का जन्म पेशावर के किस्सा खवानी बाजार में पठान फल व्यापारी गुलाम सरवर के घर 11 दिसंबर, 1922 को हुआ।

और पढ़े -   सरकारी मदद देने की एवज में राजस्थान की बीजेपी सरकार ने लोगो के घरो के बाहर लिखा, 'मैं बेहद गरीब हूँ'

रुपहले पर्दे पर बनाई अपनी पहचान
उनके माता-पिता ने उनका नाम मोहम्मद युसूफ रखा, लेकिन रुपहले पर्दे पर वह दिलीप कुमार के नाम से मशहूर हुए। उन्हें 1991 में पद्म भूषण और 1994 में दादा साहब फाल्‍के पुरस्कार से नवाजा गया। बॉलीवुड को इन्‍होंने अपनी अदाकारी से खूब संवारा। आज भी इनकी फिल्‍में दर्शकों के बीच यादगार हैं।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE