नई दिल्ली,विश्व सिनेमा में भारत को विशेष पहचान दिलाने वाले सत्यजित रे निर्देशक बिमल राय को हिंदी सिनेमा का कर्णधार मानते थे। बीती आठ जनवरी को बिमल राय की 50वीं पुण्यतिथि थी और सिने-प्रेमियों ने दिल से एक बार फिर इस महान फिलमकार को याद किया। इस अवसर को यादगार बनाने के लिए जी क्लासिक छह फरवरी से बिमल राय फिल्म फेस्टिवल शुरू कर रहा है, जिसमें हर शनिवार को रात आठ बजे उनकी क्लासिक फिल्में प्रसारित की जाएंगी। ये फिल्में हैं दो बीघा जमीन, देवदास, मधुमति, सुजाता और बंदिनी।

और पढ़े -   नवाजुद्दीन की गुमनाम जिंदगी से मायानगरी तक के सफर पर आ रही किताब

boman-irani-56a0acdad1a8c_exl

अभिनेता बोमन ईरानी इस सीरीज को प्रस्तुत करेंगे। बोमन के अनुसार, ‘बिमल दा अपने आप में एक संस्थान थे। उन्हें गुजरे भले ही आधी सदी हो चुकी है लेकिन उनके कहानी कहने के अंदाज से आज भी बहुत कुछ सीखा जा सकता है। उनकी फिल्मों में समाज सुधार की जो दृष्टि दिखती है, वह प्रासंगिक है।’

बोमन फिल्मों के प्रसारण के बीच-बीच में ब्रेक के दौरान बिमल दा के जीवन से लेकर उनकी फिल्मों से जुड़ी बातें तथा उनसे जुड़े अनसुने प्रसंग बताएंगे।

और पढ़े -   बुलेट ट्रेन को लेकर आशुतोष राणा का तंज कहा, उधार की 'चुपड़ी' रोटी से अच्छी श्रम से अर्जित की गयी 'सुखी' रोटी

साभार अमर उजाला


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE