shami

भारत और न्यूजीलैंड के बीच कोलकाता में सीरीज का दूसरा टेस्ट खेला जा रहा था, इस दौरान टीम का हिस्सा रहे तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद शमी की 14 महीने की बेटी ICU में भर्ती थी. इसके बावजूद देश को जिताने के लिए शमी मैसान में खेलते रहे.

कोलकाता के ईडन गार्डन्स मैदान में यह टेस्ट भारत का 250वां टेस्ट था. टेस्ट मैच शुरू होने के अगले दिन से ही शमी की 14 महीने की बच्ची अस्पताल में भर्ती थी, बच्ची को तेज बुखार और सांस लेने में तकलीफ होने के कारण हालत गंभीर होने के बाद उसे आईसीयू में रखा गया था.

लेकिन फिर भी शमी रोज का खेल खत्म होने के बाद बच्ची से मिलने अस्पताल जाते थे और फिर वापस अपनी टीम का साथ देने के लिए मैदान पर होते थे. मोहम्मद शमी ने टेस्ट की दोनों परियों में धारदार गेंदबाज़ी की और 6 विकेट अपने नाम कर भारत को जीत दिलाई.

विराट कोहली की तारीफ करते हुए शमी कहते हैं कि मेरे कप्तान ने हर रात अस्पताल से आने के बाद मुझे बहुत प्रेरणा देते थे. मैं उनके लिए बहुत शुक्रगुजार हूं. इसके अलावा उन टीम मेट्स का भी मैं शुक्रिया अदा करता हूं, जिन्होंने मुझे भरोसा दिलाया कि टेस्ट मैच खत्म होने तक मेरी ठीक हो जाएगी.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें