22.1 C
New Delhi,India
Tuesday, February 21, 2017
Home पाठको के लेख

पाठको के लेख

हाईकमान कल्चर अथवा व्यक्तिगत नेतृत्व पर आधारित राजनैतक दलों में प्राय: यह देखा गया है कि पार्टी प्रमुखों को शिक्षित, ज्ञानवान, विचारवान अथवा व्यापक जनाधार रखने वाले लोगों के बजाए अपने इर्द-गिर्द ऐसे लोगों की जरूरत होती है जो भले ही उपरोक्त विशेषताएं रखते हों अथवा नहीं परंतु उनमें...
बिहार में शिक्षकों की हड़ताल से छात्र-छात्राओं का भविष्य बुरी तरह प्रभावित हो रहा है। बिहार के लगभग साढ़े तीन लाख नियोजित शिक्षक पिछले दो सप्ताह से हड़ताल पर है।. बिहार के नियोजित शिक्षक वेतनमान और दूसरी मांगों को लेकर पिछले कई दिनों से सरकार पर दबाव बना रहे...
भारत एक धर्मान्ध देश है, यहाँ धार्मिक जीवन को बहुत गंभीरता से स्वीकार किया जाता है, लेकिन भारतीय समाज की सबसे बड़ी खासियत विविधतापूर्ण एकता है, यह जमीन अलग अलग सामाजिक समूहों, संस्कृतियों और सभ्यताओं की संगम स्थाली रही है, और यही इस देश की ताकत भी रही है।...
जावेद अनीस ‘‘मैं पहले एक निजी स्कूल में पढ़ता था परन्तु घर की आर्थिक स्थिति सही नहीं होने के कारण मुझे परिवार वालों ने निजी स्कूल से निकाल कर मेरा सरकारी स्कूल में दाखिल करा दिया, लेकिन वहां पढ़ाई अच्छी नहीं होती थी इस कारण कुछ दिनों बाद मैंने स्कूल...
 जावेद अनीस वहाबीवाद का पोषक सऊदी अरब विश्व का सबसे मह्त्वपूर्ण और प्रभावी मुस्लिम देश है, यहाँ सऊद द्वारा 1750 में एक इस्लामी राजतंत्र की स्थापना की गई थी। सऊदी अरब विश्व के अग्रणी तेल निर्यातक देशों में शामिल है। यहाँ गठित होने वाली घटनाओं पर दुनिया की नजर बनी...
दक्षिणपंथी भारतीय जनता पार्टी द्वारा धर्मनिरपेक्षता तथा अल्पसंख्यक विशेषकर मुस्लिम समुदाय के विरोध तथा इसे अनदेखी किए जाने की राजनीति का गुजरात में सफल परीक्षण करने के बाद इसी फार्मूले को गत् लोकसभा चुनाव में राष्ट्रीय स्तर पर भी आजमा कर भाजपा ने केंद्रीय सत्ता पर नियंत्रण हासिल कर...
भारतवर्ष में साधू व संतो को बेहद आदर-सम्मान व श्रद्धा की दृष्टि से देखा जाता है। संतों द्वारा धारण किया जाने वाला भगवा चोला भी भारतीय संस्कृति के लिए एक सम्मानजनक चोला अथवा वेशभूषा मानी जाती है। इस वेशभूषा को धारण करने वाले व्यक्ति को भारतीय समाज में एक...
आज 14 अप्रैल है आम्बेडकर साहब का जन्मदिन े वो पुष्प जो जमीन पर उगा और फकत आसमान पर खिला, जिसने लाख कठिनाइयाँ झेली पग-पग पर अपमान झेला पर अपना विश्वास नहीं खोया, अपनी मंजिल जिसने खुद तय की, मुश्किलों के पहाड़ों का सीना चीर कर जिसने अपना रास्ता...
तनवीर जाफरी हमारे देश में विभिन्न राजैतिक दलों के कई प्रमुख नेताओं द्वारा यहां तक कि मंत्री व सांसदों जैसे संवैधानिक व जिम्मेदार पदों पर बैठे लोगों द्वारा एक-दूसरे के चरित्र पर प्रहार करना, उनके लिए अपशब्दों का प्रयोग करना यहां तक कि अभद्र भाषा का इस्तेमाल या गालियां तक...
देश के रोम-रोम में समा चुके भ्रष्टाचार से त्रस्त लोगों को वैकल्पिक राजनीति का सपना दिखाने वाली तथा देश को भ्रष्टाचार मुक्त शासन देने का दावा करने वाली आम आदमी पार्टी ने गत् 5 अप्रैल को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में एक सार्वजनिक सभा में भ्रष्टाचार विरोधी हेल्पलाईन जारी...

फेसबुक पर लाइक करें

ताज़ा समाचार

सप्ताह की प्रमुख खबरें