20.5 C
New Delhi,India
Saturday, December 3, 2016
पाठको के लेख

पाठको के लेख

मुझे सख्त नियम पसंद नहीं हैं। मैं आसान नियमों में विश्वास करता हूं क्योंकि यहां जिंदगी पहले से ही बहुत मुश्किल है। मेरा मानना है कि हर दिन के साथ नियम और ज्यादा आसान हो जाने चाहिए ताकि यह दुनिया कहीं ज्यादा बेहतर जगह बन सके। आज रविवार था, इसलिए...
बैंक और एटीएम के बाहर लाइन लगाकर अपनी बारी का इंतज़ार कर रहे लोगों के चेहरे पर परेशानी के भाव तो हैं लेकिन बात करने पर पता चलता है कि वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नोटबंदी के फ़ैसले को समर्थन दे रहे हैं। यह आम आदमी की आवाज़ है...
विश्व के सबसे लंबे एकल धरने पर बैठे मास्टर विजय सिंह का अज्म तमाम विपरीत परिस्थितियों में भी नहीं टूटा है। सार्वजनिक जीवन में भ्रष्टाचार के खिलाफ उनकी लड़ाई को भले परिवार का सहयोग न मिला हो, लेकिन तमाम लोगों ने उनके उद्देश्य को सराहा है। शासन और प्रशासन की...
आदरणीय ठाकुर राजनाथ सिंह गृह मंत्री, भारत सरकार कल टेलीविजन पर आपको बोलते हुऐ देखा तो मुझे यकीन हुआ कि आप बोलते भी हैं, यह यकीन शब्द इसलिये प्रयोग कर रहा हूं क्योंकि बीते ढ़ाई साल में आप बमुश्किल ढ़ाई दर्जन बार ही बोल पाये होंगे। खैर आप को टीवी के...
प्रिय पाठकों दो खबरें आपके सामने आईं एक थी टाईम्स नाऊ के एंकर अर्नब गोस्वामी की जिसमें वे टाईम्स नाऊ को बाय बाय कह रहे थे। दूसरी खबर थी एनडीटीवी के 9 नवंबर को होने वाले प्रसारण पर प्रतिबंध की, जिसमें एनडीटीवी को पठानकोट हमले के दौरान लापरवाही से सुसज्जित रिपोर्टिंग...
mohd anas
मध्यप्रदेश पुलिस के मुताबिक उसने मुहम्मद अक़ील खिलजी और अमजद को आतंकवाद के आरोप में 13 जून 2011 को गिरफ़्तार किया था. रात 11:45 बजे गिरफ़्तारी के बाद पुलिस ने दावा किया कि उसने गुलमोहर पार्क स्थित अक़ील खिलजी के घर छापेमारी की जहां सिमी के कार्यकर्ताओं की बैठक...
अखबारों का स्तर रसातल में पहुंच गया है किसी भी अखबार को उठाकर देख लीजिये सभी का शीर्षक लगभग एक जैसा है कि जेल से भागे सिमी के आतंकी मुठभेड़ में ढ़ेर वगैरा वगैरा। सभी अखबारों ने इस खबर को प्रथम पृष्ठ पर स्थान दिया है इसे लीड न्यूज...
वसीम अकरम त्यागी मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल की सेन्ट्रल जेल से सिमी से जुड़े होने के आरोपी आठ युवकों दीपावली की रात करीब ढ़ाई बजे फरार होने की खबरें सुब्ह मीडिया में आईं थीं। फिर कुछ समय बाद खबर आई की जेल से भागे सभी आठ आरोपियों को पुलिस ने...
*रवीश कुमार के नाम खुला खत* *रवीश जी नजीब के लिये आप  टीवी को  कब अंधेरा करेंगें?*     रवीश कुमार जी मैं आपका बड़ा फैन हूं,  वैसे रवीश आप खुद को हज़ारों लोगों का प्रेरक, और आदर्श भी मानते हैं, पर कुछ बातें एैसी हैं जो इसी आदर्श व प्रेरक की निष्पक्षता,और ...
सेवा में, श्री नरेंद्र भाई मोदी जी, मोदी जी आदाब! काफी दिनों तक सोच-विचार करने के बाद आप को एक खुला खत लिखने बैठा हूं। हो ये भी सकता था कि इसको निजीतौर पर लिखकर पीएम ऑफिस को पोस्ट कर देता। लेकिन आजकल आप मीडिया के जरिए ही संवाद कर रहे...

फेसबुक पर लाइक करें

ताज़ा समाचार

सप्ताह की प्रमुख खबरें

loading...

प्रसिद्ध ख़बरें

कोहराम न्यूज़ के साथ पढ़े राजस्थान पत्रिका

error: Contents of Kohraam.com are copyright protected.