लखनऊ,दहेज और कन्या भ्रूण हत्या जैसी सामाजिक बुराइयों को समाप्त करने के लिए यूपी सरकार ने नई व्यवस्था शुरू की है। सरकारी नौकरी देने से पहले सरकार अब नौजवानों से इस बाबत शपथपत्र ले रही है कि वह दहेज नहीं लेंगे।

marriage-shimla-567e0dcd3d3f0_exl

सरकारी विभागों में नियुक्त होने वाले कनिष्ठ लिपिकों से शपथपत्र मांगा जा रहा है। उम्मीदवारों को शपथ देना अनिवार्य है। इसमें एक से ज्यादा शादी न करने की भी शपथ मांगी गई है।

हाल ही में प्रदेश में उत्तर प्रदेश स्टेट सबोर्डिनेट सर्विस कमीशन (यूपीएसएसएससी) की ओर से सरकारी विभागों में खाली पड़े कनिष्ठ लिपिक पदों पर भर्ती प्रक्रिया हुई थी। मापतौल विभाग में करीब 20 पद हैं।

विभाग ने नवनियुक्त होने वाले कनिष्ठ लिपिकों से दहेज न लेने का शपथ मांगा है। अभ्यर्थियों को शपथ पत्र पर दहेज प्रतिषेद अधिनियम 1961 एवं उत्तर प्रदेश दहेज प्रतिषेद नियमावली 1999 के तहत शपथ लेनी होगी कि वह नियुक्ति के बाद अपनी शादी में दहेज नहीं लेंगे।

साभार अमर उजाला


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें