नई दिल्ली: दिल्ली से बीजेपी के विधायक ओपी शर्मा पर सोमवार को पटियाला हाइस कोर्ट के बाहर एक शख्स को पीटने का आरोप लगा है। बताया जा रहा है कि इस मामले में जमानत मिलने से पहले शर्मा को पुलिस द्वारा भोजन करवाया गया था। इस घटना की दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी ने तीखे ट्वीट के ज़रिए आलोचना की है।

nursery-admission-arvind-kejriwal-government-shock-quota-management-at-the-finish-high-court-to-stopगौरतलब है कि सोमवार के दिन कन्हैया मामले में पटियाला कोर्ट के बाहर हिंसा हुई थी। इस दौरान शर्मा को कैमरे पर एक वामपंथी कार्यकर्ता को मारते हुए देखा गया था। गुरुवार को पुलिस ने इस बाबत बीजेपी विधायक को समन जारी किया था। केजरीवाल ने इस पर ट्वीट करते हुए लिखा – उनके लिए जो बीजेपी सरकार से जुड़े हैं, उनके द्वारा किसी की हत्या, बलात्कार या किसी को मारना जुर्म नहीं है।

कॉफी और खाना
उधर बीजेपी विधायक ने बताया कि आठ घंटे से ज्यादा तक उनसे पूछताछ की गई। वहीं एक रिपोर्ट के मुताबिक उनकी गिरफ्तारी और जमानत से पहले एक रेस्त्रां में उन्हें शाकाहारी भोजन और कॉफी पिलाई गई। उप मुख्यमंत्री सिसौदिया ने ट्वीट किया ‘सीपी के एक रेस्त्रां में मुफ्त शाकाहारी खाना, गिरफ्तारी से पहले कॉफी के कई कप और फिर 15 मिनट के अंदर रिहाई। वीवीआईपी’

सोमवार को लेफ्ट के नेता अमीक़ जमाई पर हमला करते हुए शर्मा को कैमरे में देखा गया है। ओपी शर्मा का कहना है कि उन पर पहले हमला किया गया और उन्होंने अपने और देश के बचाव में यह कदम उठाया। अपनी बात रखते हुए शर्मा ने कहा ‘अगर देश द्रोही नारे लगाए जाएंगे, और अगर जो लोग ऐसा करने से दूसरों को रोक रहे हैं, उनके साथ ऐसा बर्ताव किया जाएगा तो फिर मुझे कुछ नहीं कहना है।’

शर्मा के अलावा वकीलों के एक समूह ने भी सोमवार के दिन कन्हैया कुमार के समर्थकों पर हमला किया था। कन्हैया पर पिछले हफ्ते जेएनयू में अफज़ल गुरु की फांसी से संबंधित एक कार्यक्रम में देशद्रोही नारे लगाने का आरोप लगा है। (NDTV)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें