हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती के 804वें उर्स के मौके पर शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की ओर से अजमेर दरगाह चादर भेजी गई, जिसे युवा सेना अध्यक्ष राहुल कनल लेकर अजमेर पहुंचे और दरगाह में अपनी पार्टियों के सदस्यों के साथ मजारे ख्वाजा पर चादर पेश की.

चादर पेश कर आस्थाने से बाहर आए युवा सेना अध्यक्ष की दरगाह के खादिम आदिल चिश्ती ने दस्तारबंदी की और दरगाह का तबर्रूंक और फोटो भेंट किया.

ख्वाजा के 804वें उर्स पर उद्धव ठाकरे ने भेजी अजमेर शरीफ चादर

जियारत के बाद युवा सेना अध्यक्ष राहुल कनल ने शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का संदेश पढ़कर सुनाया, जिसमें शिव सेना प्रमुख ने देश में अमन चैन और भाईचारे की ख्वाजा गरीब नवाज से दुआ की है.

इसके अलावा दरगाह में शनिवार को फिल्म अदाकारा डिम्पल साहू ने हाजरी दी और मजारे ख्वाजा पर अकीदत के फूल और चादर पेश कर अपनी आने वाली फिल्म की कायमाबी की दुआ मांगी.

अदाकारा डिम्पल साहू पिछले कई बार दरगाह में हाजरी दे चुकी हैं. उनका मानना है कि इसी मजारे अकीदत से उन्हें कामयाबी मिली है और वो हमेशा इसी तरह दरबारे ख्वाजा में हाजरी देंगी. उन्हें जियारत खादिम अब्दुल तालिम चिश्ती ने जियारत करवाई और दरगाह का तबर्रूक भेंट कर दुपट्टा ओढ़ाया.

आपको बता दें कि उर्स के मौके पर पहली महफिले शमां हुई और उर्स की रसूमात शुरू हो गई. दरगाह परिसर में जगह-जगह महफिलों का दौर शुरू हुआ, जिसमें देश के विभिन्न भागों से आए हुए कव्वालों ने अपने अपने कलाम पेश किए.

महफिल खाने में हुई शाही महफिल में महफिल की सदारद दरगाह दीवान सैय्यद जैनुअल आबेदीन द्वारा की गई मध्यरात्रि आस्थाने को गुस्ल दिया गया. महफिल में देश के कोने-कोने से आए अकीदतमंदो ने शिरकत की. (hindi.pradesh18.com)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें