ग्लोबल टेररेज़म पर एक सेमिनार में हिस्सा लेने कानपुर आए बीजेपी नेता सुब्रमण्यन स्वामी की फ्लीट पर शनिवार सुबह कांग्रेसियों ने अंडे-टमाटरों और पत्थरों से हमला कर दिया। काले झंडे भी दिखाए गए। इस दौरान बेहद व्यस्त नरोना चौराहे पर कुछ देर के लिए जाम लग गया। भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने हमलावरों को धक्के देकर रास्ता खाली कराया। कांग्रेसियों पर लाठियां भी चलीं। बीजेपी के शहर अध्यक्ष सुरेंद्र मैथानी ने इसे पुलिस की लापरवाही बताया है। वहीं कांग्रेस प्रवक्ता अतहर नईम ने इसे निराधार कहा है।

 पुलिस की पिटाई से नाराज होकर धरने पर बैठे कांग्रेसी

नवाबगंज के वीएसएसडी कॉलेज में सेमिनार में हिस्सा लेने के लिए सुब्रमण्यन स्वामी कार से सर्किट हाउस से चले। उनके पीछे बीजेपी के लोगों की गाड़ियां थीं। मॉल रोड के नरोना चौराहे पर लगे जाम के बीच अचानक कार फंस गई। इस दौरान कहीं से आए करीब 50 लोगों ने स्वामी की कार को निशाना बनाकर अंडे-टमाटर, पत्थर और कूड़ा फेंका। पीछे से आए बीजेपी नेताओं के ललकारने पर हमलावर भागे। कुछ को पीटा भी गया। इसके बाद ही काफिला आगे बढ़ सका।

और पढ़े -   भारत में स्पीड ब्रेकर जान बचाते नहीं बल्कि जान लेते है, हर दिन होती है 30 दुर्घटना और 9 मौत

मैथानी के अनुसार, पार्टी को सूचना मिल गई थी कि रास्ते में कांग्रेसी गड़बड़ करेंगे। इसकी सूचना एसपी (ईस्ट) सोमेन वर्मा को दी गई थी, लेकिन पुलिस ने लापरवाही बरती और जानबूझकर नरोना चौराहा जाम किया गया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, पुलिस ने लाठियां पटककर कांग्रेस के कई सीनियर नेताओं को खदेड़ा। वहीं एसएसपी शलभ माथुर ने बताया कि मामला बेहद गंभीर है। एसपी (ईस्ट) को घटनास्थल पर जांच के लिए भेजा गया है। उनकी रिपोर्ट देखकर कार्रवाई की जाएगी। (नवभारत टाइम्स)

और पढ़े -   चैंपियन ट्रॉफी - महान पिता वो है जो अपने बेटे से हार जाए

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE