mayawat

मध्यप्रदेश के मंदसौर में रेलवे स्टेशन पर कथित गौमांस की तस्करी के आरोप में भगवा संगठनो द्वारा दो मुस्लिम महिलाओं की सरेआम पीटाई का मामलें की आवाज संसद में भी गूंजी.

बुधवार को राज्यसभा में बसपा सुप्रीमो मायावती ने सबसे पहले मंदसौर में महिलाओं के साथ हुई मारपीट का मामला उठाते हुए बीजेपी सरकार पर सवाल दागते हुए केंद्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी से पूछा ‘श्रीमान नकवी, मैं आपसे पूछना चाहती हूं. आपके समुदाय की महिलाओं पर हमला किया जा रहा है. सदन में आपको जवाब देना चाहिए. गो संरक्षण के नाम पर मुस्लिम महिलाओं पर हमला किया जा रहा है। यह शर्मनाक और अस्‍वीकार्य है. उन्होंने आगे कह , बीजपी एक तरफ तो बालिकाओं को संरक्षण देने की बात करती है, वहीं उसके शासित राज्‍य में महिलाओं की पिटाई की जा रही है.

विपक्ष नेता गुलाम नबी आजाद ने इस मुद्दे को लेकर कहा कि गो रक्षा होनी चाहिए, लेकिन उसे बहाना बनाकर दलित और मुसलमानों को टार्गेट करने के खिलाफ हूं.

बीजेपी की और से पार्टी का बचाव करते हुए केंद्रीय मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी ने कहा, “बहन मायावती ने जिस घटना का जिक्र किया है, मध्य प्रदेश सरकार ने तत्काल कार्रवाई की है. मुकदमा दर्ज किया गया है. हम देश में विश्वास और विकास के माहौल को कायम करना चाहते हैं. हर तबके के विकास और विश्वास के लिए सरकार प्रतिबंद्ध है.

क्या है मामला

बुधवार को दो महिलाये मंदसौर रेलवे स्टेशन पर खडी थी की अचानक से एक हिंदूवादी संगठन की भीड़ महिलाओ के साथ गली गलौच करने लगी. उन्होंने महिलाओ पर गाय के मांस की तस्करी करने का आरोप लगया. इस दौरान लोगो ने महिलाओ को थप्पड़ भी मारे. पुलिस वहां खडी मूकदर्शक बनी रही.

इस घटना में पुलिस ने दोनों महिलाओ को गिरफ्तार कर लिया है. महिलाओ से 30 किलो मांस भी बरामद किया गया है लेकिन जांच में गौमांस की पुष्टि नही हुई. पुलिस के अनुसार महिलाओ के पास से मिला मांस गाय का नहीं बल्कि भेंसे का था. लेकिन पुलिस ने महिलाओं के साथ मारपीट करने वालों पर कोई कारवाई नहीं की.

इस पूरी घटना का विडियो एक प्रत्यक्षदर्शी ने रिकॉर्ड कर लिया. विडियो में साफ़ दिख रहा है की हिंदूवादी संगठन महिलाओ के साथ बदसलूकी कर रहा है. विडियो में साफ़ है की पुलिस भीड़ से उन दोनों महिलाओ को नही बचा रही है. मामला बढ़ता देख पुलिस दोनों महिलाओ को थाने ले गयी जहाँ उनको भेंसे के मांस की तस्करी में जेल भेज दिया गया. भीड़ में शामिल लोगो पर कोई कार्यवाही नही की गयी.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें