हैदराबाद : आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन ने जुमेरात को बीजेपी के लीडर सुब्रमण्यम स्वामी के उस दावे पे सवाल उठाया जिसमें उन्होंने साल के आख़िर तक राम मंदिर का काम शुरू होने का दावा किया.

'Threat Owaisi said, I will not be cowed by threats'

एआईएमआईएम के सदर असद्दुदीन ओवैसी ने कहा “पहला सवाल तो ये है कि क्या सुब्रमण्यम स्वामी को आने वाले कल देखा है? उन्हें कैसे पता कि सुप्रीम कोर्ट दिसम्बर में फ़ैसला दे देगी, दूसरी बात ये कि उन्हें ये कैसे पता कि फ़ैसला राम मंदिर के हक़ में होगा? “

उन्होंने आगे कहा , “ आप (सुब्रमण्यम स्वामी) आज़ाद क़ानून के बारे में बात कर रहे हैं, कोर्ट कि अवहेलना कर रहे हैं आप क्यूंकि अब मुआमला सुप्रीम कोर्ट में है और सुप्रीम कोर्ट फ़ैसला सुबूतों कि बुनियाद पे देगी. ये काफी चौंकाने वाला है, इसे रोका जाना चाहिए. हम ये जानना चाहते हैं कि सुप्रीम कोर्ट में किसने उन्हें ये सब बताया.”

सियासत.कॉम के अनुसार , आज सुब्रमण्यम स्वामी ने ये दावा किया कि साल के आख़िर तक अयोध्या में बाबरी मस्जिद की ज़मीन पर राम मंदिर बनाया जाएगा. बीजेपी के लीडर स्वामी आये दिन बिना वजह के बयानात देते रहते हैं और हर वक़्त क़िस्म क़िस्म की विवादित चर्चाओं में उनका नाम आता रहता है


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें