फिलिस्तिन्नी कैदियों के भूक हड़ताल के समर्थन में भारत में दिल्ली सहित कई जगहों पे हुए आयोजन.

 

भारत की जनता हमेशा से फिलिस्तीनी संघर्ष में साथ देती आरही है, इसकी ताज़ा मिसाल कल दिल्ली में फिलिस्तीन दूतावास के सामने इजराइल की जेलों में बंद कैदियों के समर्थन में हुए आयोजन से मिला जिसमे सैकड़ो लोगो ने हिस्सा लिया और फिलिस्तीनी कैदियों और जनता के प्रति अपना सहयोग व्यक्त किया.

नेशनल पंथेर्स पार्टी के डॉ भीम सिंह, MSO के शुजाअत कादरी, भारत फिलिस्तीन एकजुटता के आनंद तथा पीस एंड जस्टिस फोरम के इमरान मिस्बाही के द्वारा आयोजित इस कार्यकर्म में इजराइल द्वारा कैदियों के साथ किये जारहे अमानवीय व्यवहार की निंदा की गयी और कैदियों को मूलभूत चीज़े देने की मांग की गयी.  सभी ने एक स्वर में ये की मांग ये है कि फिलिस्तीनी लोगों को उनका हक़ मिलना चाहिए और फिलिस्तीनी लोगों पर इजराइल द्वारा की जाने वाली ज्यादतियों पर संयुक्त राष्ट्र द्वारा रोक लगायी जानी चाहिए।

 

 

उधर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में फैजुल हसन और अबुल फराह शाज्ली के नेतृत्व में अनेक छात्रों ने 24 घण्टे की भूख हड़ताल शुरू की। 24 मई को शाम 6 बजे 24 घण्टे पूरे होने पर एक मार्च भी अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के अंदर निकाला जाएगा जिसमे वरिष्ठ प्रोफेसर भी शामिल होंगे।

 

इस से पहले 21 मई को बनारस में बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में छात्रों ने सांकेतिक भूख हड़ताल के जरिये फिलिस्तीनी लोगों को अपना समर्थन दिया।

नई दिल्ली में अभिमन्यु कोहाड़ और अशरफ ज़ैदी ने भी दिल्ली में भूक हड़ताल का समर्थन किया


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE