मायावती को वोट बैंक से मतलब न कि दलित से: पासवान  - India TV

बसपा प्रमुख मायावती पर उनके पूर्व सहयोगी स्वामी प्रसाद मौर्य द्वारा टिकट नीलामी का आरोप लगाते हुए इस्तीफा देने के बाद लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) अध्यक्ष राम विलास पासवान ने मायावती पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह हर चुनाव के पहले टिकट बंटवारे को एक बिजनेस में तब्दील कर देती हैं। मायावती ने दलितों के हित के लिए कभी काम नहीं किया है. उन्हें बस सत्ता चाहिए होती है.

उन्होंने आगे कहा कि चुनाव करीब आने पर टिकट के दाम बढ़ जाते हैं। मायावती को कभी भी दलित ज्यादा पसंद नहीं रहे केवल पैसा पसंद रहा.

गोरतलब रहें कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने पार्टी छोड़ने के पहले कहा, उनका दम घुट रहा था, मायावती पार्टी का टिकट बेच रही हैं और उन्होंने पार्टी के संस्थापक कांशीराम की विचारधारा का परित्याग कर दिया है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें