sensex-l-express-photo-1

मुंबई | 500 और 1000 के नोट बंद करने की ,प्रधानमंत्री मोदी की घोषणा के बाद आज बाजार में हडकंप का माहौल है. पूरे हिंदुस्तान में लोगो के अन्दर बहुत सारे सवाल है जिनका जवाब उनको नही मिल रहा है. वही अमेरिका में डोनाल्ड ट्रम्प की जीत की सम्भावना और बड़े नोट बंद होने से शेयर बाजार में एतिहासिक गिरावट दर्ज की गयी.

बुधवार को शेयर मार्किट एतिहासिक गिरावट के साथ खुला. एक मिनट में ही शेयर बाजार 1600 अंक गिर गया. इससे निवेशको के करीब 7 लाख करोड़ रूपए डूब गए. भारत के साथ साथ अंतराष्ट्रीय बाजार में भी गिरावट देखि गयी. सेंसेक्स के अलावा निफ्टी में भी 500 अंक की गिरावट दर्ज की गयी. फ़िलहाल निफ्टी 8034 अंक पर कारोबार कर रही है.

500 और 1000 के नोट बंद होने के बाद रियल एस्टेट सेक्टर में काफी हलचल है. देश के कालेधन का सबसे ज्यादा इस्तेमाल इसी सेक्टर में होता है. पुराने नोट बंद होने की वजह से निवेशक रियल एस्टेट में निवेश नही कर सकेंगे जिससे प्रॉपर्टी के रेट कम होने के आसार है. इससे रियल एस्टेट कारोबार धराशाई होने के कगार पर है.

उधर अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प की जीत की संभावना के बीच , अन्तराष्ट्रीय बाजार में भी गिरावट दर्ज की गयी है. जापान से लेकर यूरोप तक के बाजार नेगेटिव में कारोबार कर रहे है. उधर डॉलर के मुकाबले रूपए भी कमजोर हुआ है. डॉलर के मुकाबले रूपए में 18 रूपए की कमजोरी दर्ज की गयी, सुबह रूपए डॉलर के मुकाबले 66.80 रूपए पर खुला .


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें