लन्दन स्थित पत्रकारों और रिपोर्टरों के संगठन ने अल-मसीरा चेनल पर प्रतिबंध की आलोचना की!

download

न्यूज चेनल अल-मसिरा ने बताया के “अल-मसीरा चेनल पर प्रतिबंध लगाने का कारण यमन में सऊदी अरब और उसके सह्योगयों के अपराधों के खिलाफ उठने वाली आवाज़ को दबाना हे, पत्रकार संगठन ने अल-मसीरा के कार्यकर्ताओं के साथ एकजुटता की घोषणा करते हुए कहा के सऊदी अरब की ये करवाई अभिव्यक्ति की सवतंत्रता और मानव अधिकार के खिलाफ है, और सभी मानव अधिकार संगठनो से इस करवाई पर साथ देने की अपील की है.

और पढ़े -   एर्दोगान ने दी रूहानी को दोबारा राष्ट्रपति बनने पर दी मुबारकबाद, रूहानी बोले - ईरान व तुर्की का क्षेत्रीय सहयोग अहम

ये कोई पहली बार नहीं हुआ हे के सऊदी अरब ने आपने बिरोधी चेनलों के खिलाफ ताक़त का प्रयोग किया हो, बलके इस से पहले भी सऊदी चेनल “अल-मयादीन” इस के हमले का शिकार हुआ था, और सऊदी ने लेबनान सरकार पर इस चेनल के अरब प्रसारित कार्यक्रम पर प्रतिबंध का दवाब बनाया था.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE