updated – 16 April

ट्विटर पर आज सुबह से ही नाना पाटेकर को लेकर हैशटैग #HelpNana4Farmers ट्रेंड कर रहा है नाना पाटेकर को की हौसलाअफजाई करते हुए देशभर के पाठक उनके कामों की सरहना कर रहे है, किसानो की मदद को हमेशा तैयार रहने वाले नाना ने किसानो द्वारा आत्महत्या करने को मना किया है उनका कहना है की चाहे कैसी भी परिस्थियाँ हो लेकिन ज़िन्दगी से कभी हार नही माननी चाहिए आत्महत्या किसी भी मुसीबत का हल नही होता.

नाना पाटेकर और उनके साथी मकरंद अनसपुरे ने आत्‍महत्‍या करने वाले किसानों के एक एक परिवार के पास जा कर उन्‍हें अपने हाथें से सहायता राशि का चेक पकड़ाया ये सभी परिवार लातूर में एक होटल के सभागार में एकत्रित हुए थे। इससे पहले वे विदर्भ इलाके में किसानों के परिवारों को सहायता राशि वितरित कर चुके हैं।  इस मौके पर नाना ने कहा कि वो तो एक पोस्‍टमैन हैं जो लोगों के द्वारा आ रही मदद को किसानों तक पहुंचा रहे हैं। इसके साथ ही उन्‍होंने ये भी कहा कि ये एक गंभीर समस्‍या है और वे चाहते हैं इससे मुकाबला करने के लिए सभी बड़े राजनैतिक दल जैसे कांग्रेस, एनसीपी और भाजपा आपसी मतभेद भूल एक साथ समस्‍या का सामना करने के लिए आगे आयें, हालाकि वो नहीं जानते कि उनका ये सपना कभी पूरा होगा भी कि नहीं।

quran-is-touches-my-heart-says-nana-patekar

कुरान का हवाला दे कर किसानों से आत्महत्या ना करने की अपील की

नाना पाटेकर ने बताया कि आत्महत्या करने वाले किसानों में मुस्लिम किसानो की संख्या ना के बराबर है क्योंकी उनके पवित्र ग्रंथ कुरान में आत्महत्या को पाप बताया गया है जिससे ईश्‍वर के नियमों की अवहेलना होती है। उन्‍होंने कहा कि क़ुरान उनके दिल के बहुत क़रीब है तथा ये विचार बेहद पसंद आया और वे चाहते हैं कि किसानों को इसे समझना चाहिए और किसी भी हालत में हथियार नहीं डालने चाहिए बल्कि  परिस्थियों का सामना करना चाहिए।

Read this News in English -Holy Quran Touches my Heart- Nana Patekar


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें