उसके साथ जो दरिंदगी हुई उसे वो ताउम्र नहीं भूल पाएगी, लेकिन लोगों को जागरुक करने के लिए उसने अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया पर डाल दीं।

न्यूयॉर्क की 27 वर्षीय एंबर एमर उस वक्त दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन में थी जब उसके साथ रेप हुआ।पीड़िता रेप के खिलाफ एक समाजसेवी के तौर पर काम करती है। उस दिन भी वो केपटाउन में अपने ‘स्टॉप रेप, एजुकेट’ मुहिम के सिलसिले में पहुंची थी।तभी एक शख्स ने उसे शॉवर लेने के पूछा, वो तैयार हो गई, लेकिन दरिंदे ने उसे अपनी हवस का शिकार बना डाला।

और पढ़े -   दान और पुण्य के मामले में हिंदुओं से आगे है ईसाई और मुसलमान: रिपोर्ट

रेप पीड़िता के मुताबिक खुद पर हुई वहशत से वो दुखी थी लेकिन रेप के खिलाफ अपनी मुहिम को अंजाम देने के मकसद से सोशल मीडिया पर अपनी तस्वीरें डाल दी।रेप पीड़िता के मुताबिक वो हॉस्टल में अपने दोस्त निक से मिलने पहुंची थी। लेकिन उसका दोस्त शाकिर उसे मिला। निक की गैरमौजूदगी में शाकिर ने युवती को अपनी तरफ खींचा और किस कर लिया।

अब तक सब ठीक था, फिर शाकिर ने उसे शॉवर लेने के लिए बुलाया। और जैसे ही वो शॉवर लेने गई तो शाकिर ने उसका रेप कर दिया।पीड़िता के मुताबिक वो दो दिन से बीमार थी और उसके हॉस्टल में ठंडा पाना आता है इसलिए शाकिर के कहने पर गर्म पानी से नहाने की उम्मीद वो बाथरूम में चली गई थी।

और पढ़े -   दान और पुण्य के मामले में हिंदुओं से आगे है ईसाई और मुसलमान: रिपोर्ट

क्लिक करके वायरल विडियो देखे –

रेप पीड़िता के मुताबिक 13 साल की उम्र में पहली बार वो यौन उत्पीड़न का शिकार हुई थी।पीड़िता ने सोशल मीडिया पर अपनी मुस्कराती हुई न्यूड तस्वीरें भी डाली और लिखा कि मैं कुदरत के साथ नग्न रहने में अच्छा महसूस करती हूं, इसका मतलब ये नहीं के ऐसी स्थिति में सेक्स और रेप को अंजाम दिया जाए।

और पढ़े -   दान और पुण्य के मामले में हिंदुओं से आगे है ईसाई और मुसलमान: रिपोर्ट

पीड़िता ने ये भी लिखा कि अगर वो रेप की शिकायत लेकर पुलिस के पास लेकर नहीं गई तो इसका मतलब ये नहीं कि रेप हुआ नहीं है।रेप पीड़िता के मुताबिक उसके साथ कई बार रेप हुआ है, लेकिन अब उसने इस सदमे से उबरने के लिए नई मुहिम ‘क्रिएटिंग कंसेंट कल्चर’ शुरू की है।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE