piyu

केंद्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री पीयूष गोयल ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के बिजली मंत्रियों के दो दिवसीय सम्मेलन में बिजली की चोरी के मुद्दे पर कड़ा रुख अपनाते हुए कहा कि बिजली चोरी में उद्योगों के साथ बड़े लोग शामिल हैं न कि गरीब.

उन्होंने कहा, “लाइनमैन तथा विभाग के अधिकारियों को रिश्वत की पेशकश की जाती है और हो सकता है इसमें राजनेता भी शामिल हों।” उन्होंने बिजली चोरी में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की और कहा कि इससे आम लोगों को लाभ होगा.

उन्होंने गरीबों का बचाव करते हुए कहा कि यह मामला गरीब लोगों से जुड़ा नहीं है. मत सोचिये कि अगर आपने बिजली चोरी के खिलाफ कार्रवाई की तो आप राजनीतिक रूप से प्रभावित होंगे. गरीब लोग बिजली चोरी में शामिल नहीं हैं. किसान यह काम नहीं करता क्योंकि उसे पहले से सस्ती बिजली मिल रही है.”


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें