उन्नाव | उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था को मुद्दा बनाकर अखिलेश सरकार को घेरने वाली बीजेपी, अब खुद राज्य की सत्ता पर काबिज है. लेकिन प्रदेश में जुर्म और हैवानियत रुकने का नाम नही ले रहे है. हालाँकि मुख्यमंत्री कई बार दोहरा चुके है की वो कानून व्यवस्था के मुद्दे पर कोई समझौता नही करेगे लेकिन यह सब मात्र जुमला ही साबित हो रहा है. यूपी में बदमाश खुलेआम लोगो को मौत के घाट उतार रहे है, गैंगरेप हो रहे है लेकिन कही कोई सुनवाई नही है.

अभी जेवर में चार महिलाओ के साथ हुए बलात्कार का मामला सुलझा भी नहीं था है और उन्नाव में भी एक गैंगरेप का मामला सामने आया है. यहाँ एक महिला ने आरोप लगाया की तीन युवको ने उसे कई घंटो तक कार में बंधक बनाकर उसके साथ बलात्कार किया. बाद में आरोपी महिला को सड़क पर फेंककर फरार हो गए. महिला का यह भी आरोप है की आरोपियों ने उससे फिरौती के पांच हजार रूपए भी लिए.

और पढ़े -   स्वामी ओम ने तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को बताया गलत, लोगो ने की जबरदस्त धुनाई

यह घटना मंगलवार की बतायी जा रही है. पीड़ित महिला ने पुलिस को बताया की उसके पति की मौत चार साल पहले चो चुकी है. उसके तीन बेटी और एक बेटा है. बच्चो का लालन पोषण करने के लिए महिला ने अपनी जमीन बंटाई पर दी हुई है. इसके अलावा महीना ने कबूला की वो कभी कभी कच्ची शराब बनाकर उसको बेचती है. महिला के अनुसार मंगलवार रात को तीन लोग अचानक से उसके घर में घुसे और घर के सारे सामान को उथल पुथल कर दिया.

और पढ़े -   कर्नल पुरोहित की मालेगांव ब्लास्ट में क्या थी भूमिका? जानिए एक आरोपी की जुबानी..

महिला ने बताया की उसने समझा की आबकारी विभाग के कुछ लोग सादी वर्दी में आये है. इसलिए उन्होंने उनका विरोध नही किया. बाद में उन्होंने घर के बाहर बैठे बंटाईदार को अपनी गाड़ी में बिठाकर ले गए. इसके कुछ देर बाद महिला के पास बंटाईदार के मोबाइल से फ़ोन आया और पांच हजार रूपए की फिरौती की मांग की. जब महिला फिरौती की रकम तय जगह पर पहुंची तो उन्होंने महिला को अन्दर गाड़ी में खींच लिया.

थोड़ी देर बाद आरोपियो ने युवक को कार से बाहर फेंक दिया और महिला के हाथ पैर बांधकर उसके साथ बारी बारी से बलात्कार किया गया. इस दौरान उन्होंने महिला से गांव के कोटादार को फोन कराया और 50 हजार रूपए फिरौती लेकर मगरायार गांव के पास पहुंचाने को कहा. लेकिन जब कोटदार रकम लेकर वहां पहुंचा तो वहां न तो महिला थी और न ही आरोपी. रात के करीब साढ़े तीन बजे लोगो ने महिला को चमियानी के पास सड़क किनारे पड़े कराहते हुए देखा.

और पढ़े -   वायरल विडियो: बीजेपी नेता ने तिरेंगे को कचरे में फेंका, लोगो ने कहा , मुस्लिम होता तो टुकडो में काट दिया जाता

लोगो ने इसकी सूचना पुलिस को दी और महिला को उसके घर पर पहुँचाया. सुबह पुलिस ने महिला का बयान लिया और उसे मेडिकल के लिए जिला अस्पताल भेज दिया. महिला के अनुसार आरोपियों ने रेप करेने के बाद उसे सडक पर फेंक दिया. फ़िलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है. खबर लिखे जाने तक किसी भी आरोपी की गिरफ़्तारी नही हो पायी थी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE