नई दिल्ली : कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित ने आरोप लगाया कि 26/11 के साजिशकर्ता डेविड कोलमैन हेडली ने इशरत जहाँ को आतंकवादी बताने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर करे हैं | उन्होंने कहा ये देख कर बहुत हैरानी हो रही है कि जो ये भी नहीं जानते थे कि डेविड कौन था ,वो भी उसकी इस बात पर ब्यान दे रहे हैं |

image

दीक्षित ने आईएएनएस से बात करते हुए कहा कि अपने ब्यान से चार पांच दिन पहले मैंने सुना था कि कुछ लोगों से डेविड से समझौता किया है जिसके तहत वह इशरत जहाँ का नाम एक आतंकवादी के तौर पर लेगा | अगर ये ख़बर सच है तो कोई मुझे ये बताये कि ऐसे कई लोग हैं जो ये भी नहीं जानते कि डेविड है कौन? फिर उनको उसके इस ब्यान के बारे में कैसे मालूम हुआ?

उन्होंने कहा कि हमने कुछ दिन पहले सुना था कि डेविड इस तरह का ब्यान देगा मुझे ये बेहद संदिग्ध लग रहा है क्यूँकि इशरत जहाँ के बारे में गुजरात सरकार या भारत सरकार के पास ऐसी कोई सूचना नहीं थी इस मामले की पूरी जाँच की जानी चाहिए कि उसको इस मामले से कैसे जोड़ा गया है |

दीक्षित ने यह भी कहा है कि इशरत जहां मामला पूरी तरह से मानव अधिकारों के उल्लंघन का एक बहुत स्पष्ट मामला था और गुजरात सरकार या पुलिस ऐसा कोई भी सुबूत नहीं पेश कर सकी जिससे ये साबित हो कि वो राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में शामिल थी |

इस बीच भारतीय जनता पार्टी ने इशरत जहाँ को बिहार की बेटी बताने के ब्यान पर नितीश कुमार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि उन्हें अपने इस ब्यान को वापस लेना चाहिए |

“भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि मुठभेड़ के बाद कई नेता उसे शहीद और बेगुनाह , बिहार की बेटी बता रहे थे उन्हें डेविड के इस चौंकाने वाले रहस्योद्घाटन के बाद अपने ब्यान को वापस लेना चाहिए |

डेविड कोलमैन हेडली के बयान गुरुवार को मुंबई की विशेष अदालत में हुआ था जहाँ उसने 26/11 के आतंकी हमलों के लिए बनायी गयी योजनाओं का ख़ुलासा करते हुए इशरत जहाँ का नाम लेते हुए कहा था कि वह लश्कर की आत्मघाती हमलावर थी | (siasat)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें