गैंगस्टर आनंदपाल सिंह की हत्या की सीबीआई जांच की मांग को लेकर भड़के राजपूतों की हिंसा और पुलिस कारवाई के चलते एक युवक की मौत हो गई है. इसके अलावा 17 पुलिसकर्मी घायल हुए है. जिनमे तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है.

राजस्थान में हुई इस गंभीर स्थिति पर कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए राज्य के राजपूत नेताओं से समाज के हित में इस्तीफा देने की अपील की. साथ ही केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने अपील की है कि वो राजपूत धर्म निभाएं और आनंदपाल एनकाउंटर केस की सीबीआई जांच के लिए अपने वीटो का उपयोग करें.

और पढ़े -   40 साल से बन रही नहर का बाँध टूटा, नितीश आज करने वाले थे उद्घाटन

 उन्होंने कहा कि यदि कसाब को जिंदा पकड़कर न्यायालय में प्रस्तुत किया गया था तो आनंदपाल का एनकाउंटर क्यों किया गया. सजा देना न्यायालय का काम है. पुलिस ने आनंदपाल को सजा ए मौत क्यों दे दी. उन्होंने लिखा कि राजस्थान में आनन्द पाल के फ़र्ज़ी एनकाउण्टर पर सीबीआई की माँग मानने में भाजपा को क्यों एतराज़ है?  उस पर अपराधिक प्रकरण थे तो भी उसे न्याय पालिका के सामने जाने का हक़ भाजपा सरकार कैंसे छीन सकती है! वो अधिकार तो आतंकवादी कसाब को भी मिला था.

और पढ़े -   40 साल से बन रही नहर का बाँध टूटा, नितीश आज करने वाले थे उद्घाटन

उन्होने राजस्थान के सीएम वसंधुरा राजे के लिए लिखा ‘मुख्यमंत्री जी अपना अहंकार छोड़िए और सीबीआई की जॉंच के आदेश दीजिए. इन्हीं लोगों ने आपको दो बार मुख्य मंत्री बनाया है. राजपूत समाज के मंत्रियों से दिग्विजय सिंह ने अपील की है कि यदि मुमं जी आदेश नहीं देती हैं तो भाजपा के राजस्थान के राजपूत मंत्रियों को तत्काल इस्तीफ़ा दे देना चाहिए.

और पढ़े -   40 साल से बन रही नहर का बाँध टूटा, नितीश आज करने वाले थे उद्घाटन

दिग्विजय ने आगे कहा, ‘मैंने राजनाथ सिंह जी देश के गृह मंत्री जी से भी अनुरोध किया है अपना क्षत्रीय धर्म निभाइए और राजस्थान की मुख्य मंत्री पर अपना वीटो लगाइए.’


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE