647_111316010926_112616125456

हैदराबाद | नोट बंदी के बाद पूरा देश 2000 का नोट लेने के लिए बैंक और एटीएम की कतारों में खड़ा हुआ है वही देश में नकली 2000 नोट आने की आहट भी सुनी जाने लगी है. फर्जी नोट, आतंकवाद और कालेधन को खत्म करने के नाम पर, नोट बंदी करने का फैसला अब बेकार साबित होता दिख रहा है. हैदराबाद से जो खबर आई है उसने केंद्र सरकार और पुलिस के होश उड़ा दिए है.

पुलिस ने हैदराबाद में , 2000 के नकली नोट छापने के गिरोह का पर्दाफाश किया है. हैदराबाद से करीब 35 किलोमीटर दूर पुलिस ने नकली नोट छपने के जुर्म में छह लोगो को गिरफ्तार किया है. इन लोगो के पास से 2 लाख रूपए के नकली 2000 के नोट बरामद हुए है. यही नही इन लोगो के पास से 10,20,50 और 100 रूपए के भी नकली नोट मिले है.

हैदराबाद के राचाकोंडा के पुलिस आयुक्त महेश भागवत ने मीडिया को बताया की उनको इब्राहिमपटन में नकली नोटों के बारे में ख़ुफ़िया जानकारी मिली थी. जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने एस. रमेश नामक व्यक्ति के घर छापा मारा जहाँ से पुलिस ने 2,22,310 के नकली नोट बरामद किये. इस मामले में छह लोगो को गिरफ्तार किया गया है वही दो लोग अभी फरार है.

महेश भगवत के अनुसार पकडे गए नकली नोटों में 105 नोट 2000 के है. इनकी कीमत करीब 2 लाख 10 हजार रूपए है. इसके अलावा छापे में नकली छोटे नोट भी बरामद हुए है. आरोपियों के पास से दो रंगीन फोटो कॉपी मशीन और 50 हजार रूपए नकद भी मिले है. महेश भागवत ने बताया की पहले आरोपियों ने छोटे नकली नोट छापने शुरू किये , जब ये नोट बाजार में आराम से चल निकले तो इन्होने 2000 के नकली नोट छापने की योजना बनायी.

गिरोह के सरगना साईनाथ पेशे से कसाई है. साईनाथ के अलावा जी.अंजैया, सी.सत्यनारायण, के.श्रीधर गौड़ तथा ए.विजय कुमार को भी गिरफ्तार किया गया है. चौकाने वाली बात यह है की 2000 के नोट 15 दिन पहले बाजार में आये है और अभी से फर्जी नोट छापने वाले सक्रीय हो गए है. यह केंद्र सरकार और पुलिस को परेशान करने वाली खबर है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें