नई दिल्ली। ‘अतुल्य भारत’ कैंपेन से इसके ब्रांड एंबेसडर आमिर खान को बाहर किए जाने के बाद उन पर एक बार फिर से जुबानी जंग शुरू हो चुकी है। शुक्रवार को खबर आई कि पर्यटन, संस्कृति एवं परिवहन की स्थाई समिति की बैठक में भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने आमिर को देशद्रोही कह दिया।

manoj tiwari

हालांकि शनिवार को तिवारी ने सफाई देते कहा कि मैंने कभी भी आमिर के लिए ‘देशद्रोही’ शब्द का इस्तेमाल नहीं किया, अगर किसी समाचार पत्र ने ऐसा प्रकाशित किया है, तो मैं उसे नोटिस भेजूंगा।

इससे पहले एक अखबार में छपी गई खबर के मुताबिक, संसद की स्थायी समिति की इस बैठक में पर्यटन सचिव विनोद जुत्शी भी मौजूद थे। वहीं कांग्रेस सांसद कुमारी सैलजा ने अतुल्य भारत के इस मुद्दों को उठाते हुए पूछा कि सरकार इसके लिए नया ब्रांड एंबेसडर देख रही है ऐसे में उनके पास आगे की क्या योजना है ? कुछ रिपोर्ट में ये कहा जा रहा है कि अमिताभ बच्चन अतुल्य भारत कैंपेन के ब्रांड एंबेसडर बनाए जा सकते हैं।

सैलजा की इन बातों के बाद सीपीएम सांसद रीताब्राता बैनर्जी ने सवाल खड़े करते हुए पूछा कि क्या अगर आमिर खान की जगह किसी को भी लाया जाता है तो वो इस कैंपेन के लिए फ्री काम करेंगे क्योंकि आमिर खान इसके लिए सरकार से कोई पैसा नहीं लेते थे ?

बैनर्जी ने ये भी पूछा कि अगर हां तो ये बताया जाए कि नए चेहरे के लिए कितने पैसे दिए जाएंगे ? ठीक उसी वक्त, भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने उत्तेजित होते हुए कहा, ये अच्छा हुआ कि आमिर खान को अतुल्य भारत कैंपने से बाहर कर दिया गया। आमिर खान देशद्रोही है।’

मनोज तिवारी की इन बातों को सुनकर सीपीएम सांसद बैनर्जी, कांग्रेस नेता के.सी.वेणुगोपाल और वहां मौजूद दूसरे नेताओं ने फौरन विरोध करते हुए कहा कि ये बात ठीक नहीं है। इस तरह की भाषा नेताओं की तरफ से किसी भी व्यक्ति के खिलाफ इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए। ये असंसदीय व्यवहार है। वहां पर मौजूद नेताओं की इस प्रतिक्रिया को देखने के बाद मनोज तिवारी बिल्कुल शांत हो गए। साभार: नईदुनिया


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें