randeep-singh-surjewala-_0

पटना | नोट बंदी के फैसले के बाद मोदी सरकार पर आरोप लग रहे है की उन्होंने बीजेपी नेताओं को इसके बारे में पहले ही बता दिया था. विपक्षी पार्टिया , बंगाल में नोट बंदी से कुछ घंटे पहले बीजेपी के खातो में 3 करोड़ रूपए जमा होने का दावा भी कर रहे है. अब इस मामले में नया खुलासा सामने आया है. कांग्रेस ने आरोप लगाया है की नोट बंदी से पहले बीजेपी ने देश भर में अरबो रूपए की जमीन खरीदी है.

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट कर दावा किया की बीजेपी ने बिहार सहित देश भर में अरबो रूपए की संपत्ति कैश और चेक से खरीदी है. सबूत के तौर पर सुजेवाला ने कुछ कागजात की फोटो भी शेयर की है. सुरजेवाला के आरोप लगाते ही जेडीयु ने इस मामले की जांच की मांग की है. बिहार में बीजेपी के एक सांसद ने इस बात की पुष्टि की है की उन्होंने पिछले कुछ महीनो में देश भर में जमीने ख़रीदे की है.

मिली जानकारी के अनुसार बीजेपी के राष्ट्रिय अध्यक्ष अमित शाह ने जमीन खरीदने के लिए कुछ वरिष्ठ कार्यकर्ताओ और विधायको को ऑथोराइज्‍ड सिग्नेटरी नामित किया गया था. बिहार में दीघा (पटना) के बीजेपी एमएलए संजीव चौरसिया इसके लिए ऑथोराइज्‍ड सिग्नेटरी बताये जा रहे है. बिहार में अलग अलग जगहों पर खरीदी गयी जमीनों के लिए चौरसिया ही ऑथोराइज्‍ड सिग्नेटरी थे.

जब इस मामले में चौरसिया से बात की गयी तो उन्होंने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा की यह सच है की बीजेपी ने अगस्त महीने से लेकर , नवम्बर के पहले सप्ताह तक , बिहार में जमीने खरीदी है. ये जमीन पार्टी कार्यालय और अन्य कामो के लिए खरीदी गयी है. चौरसिया ने यह भी बताया की बिहार के अलावा देश भर में इस तरह की जमीने ख़रीदे गयी है.

जब चौरसिया से यह पुछा गया की इन सम्पतियो को खरीदने के लिए पैसे कैश दिए गए या चेक में , तो उनका कहना था की मैं तो सिग्नेटरी अथॉरिटी मात्र हूँ. ऐसे कामो के लिए पार्टी पैसे देती है. चूँकि पार्टी का सारा काम नम्बर एक में होता है इसलिए ये सारी जमीन चेक से ही खरीदी गयी होंगी. खबर है की बीजेपी ने बिहार के मधुबनी, मधेपुरा, कटिहार, किशनगंज, अररिया, अरवल, लखीसराय में जमीने खरीदी है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें