उत्तर कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के हंदवारा शहर में एक प्रदर्शन के दौरान सुरक्षा बलों की गोलीबारी में आज दो युवकों की मौत हो गयी। भीड़ सेना के जवान द्वारा एक छात्रा से कथित छेड़छाड़ के बाद प्रदर्शन कर रही थी। अधिकारियों ने बताया कि एक छात्रा ने आरोप लगाया था कि जब वह अपने घर लौट रही थी तो शहर में सेना के एक पिकेट पर तैनात सैनिकों ने उसका उत्पीड़न किया जिसके बाद यहां से 85 किलोमीटर दूर कुपवाड़ा जिले के हंदवारा शहर में एक विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया गया। गांव वाले आरोपी जवान को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे।

स्थानीय लोगों ने बताया कि सेना ने प्रदर्शन कर रहे गांव वालों ने ओपन फायरिंग की। इसमें इकबाल अहमद और नईम भट की मौत हो गई। लोगों की मौत पर दुख जताते हुए सेना के एक अधिकारी ने कहा कि मामले की जांच की जाएगी और अगर कोई दोषी पाया गया तो कानून के अनुसार निपटा जाएगा। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि दोनों नागरिकों की मौत के बाद जवान तत्काल बंकर छोड़कर भाग गए।

स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया था कि स्कूल से घर लौट रही एक लड़की के साथ सेना के जवानों ने छेड़खानी की, जिसके बाद युवकों ने कस्बे में स्थित सेना की एक चौकी पर पथराव शुरू कर दिया। पथराव कर रही भीड़ पर कथित तौर पर सुरक्षाबलों द्वारा की गई गोलीबारी में दो युवकों की मौत हो गई, जबकि एक अन्य घायल ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

मृतक दोनों युवकों की पहचान मुहम्मद इकबाल (24) व नईम कादिर बट (22) के रूप में हुई है, जिनकी मौत हंदवाड़ा कस्बे में एक हिंसक भीड़ पर कथित तौर पर सेना की गोलीबारी में हो गई। गोलीबारी में घायल हुए राजा बेगम (54) ने बुधवार को दम तोड़ दिया। उन्हें मंगलवार को सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, उन्हें गंभीर चोटें आई थीं।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें