राजधानी भोपाल में एक 60 वर्षीय महिला पर आसमान से फुटबॉल जैसा एक बर्फ का टुकड़ा गिरने से उनका कंधा जख्मी हो गया। घटना बीते 17 दिसंबर की है। अपने आप में बेहद दुर्लभ इस घटना के बाद से एविएशन क्षेत्र के वैज्ञानिकों में जिज्ञासा है। उनका मानना है कि यह फुटबॉल जैसी दिखने वाली बर्फनुमा चीज और कुछ नहीं बल्कि एक कमर्शल प्लेन के टॉइलट से गिराया गया जमा हुआ मल-मूत्र है।

एक्सपर्ट्स का मानना है कि यह देश का पहला ऐसा मामला है, जिसमें आसमान से गुजरते प्लेन से कोई पदार्थ गिरने पर कोई व्यक्ति घायल हुआ हो। चश्मदीदों का कहना है कि हादसे में घायल हुई राजरानी गौड़ अगर आज जिंदा हैं तो सिर्फ इसलिए क्योंकि प्लेन से गिरा बर्फ का यह टुकड़ा उन पर गिरने से पहले एक छत में टकराकर टूट गया था।

एक चश्मदीद दीपक जैन ने बताया, ‘मैं उस जगह से महज 25 फीट की दूरी पर था, जब वह बर्फ का टुकड़ा आसमान से महिला के ऊपर गिरा। आसपास के लोगों और बच्चों ने उसे गिरते हुए और राजरानी के चीखने की आवाज सुनी। हम लोग उनके घर की तरफ दौड़े और उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया।’ उन्होंने कहा, ‘शुक्र है कि वह टुकड़ा उन पर गिरने से पहले छत से टकरा गया, नहीं तो उनका सिर बुरी तरह घायल हो जाता।’

एक एविएशन एक्सपर्ट ने कहा कि यह बर्फ का टुकड़ा या तो ‘ब्लू आइस’ (किसी प्लेन के टॉइलट लीकेज की वजह से बीच रास्ते में गिरने वाला जमा हुआ मल-मूत्र) हो सकता है या फिर सर्दी के मौसम में वायुमंडलीय प्रभाव के कारण बनने वाला बर्फ का टुकड़ा हो सकता है। एक्सपर्ट के मुताबिक, टॉइलट से लीक होने वाला मल-मूत्र जिस ऊंचाई पर उड़ता है, वहां का तापमान बेहद कम होने की वजह से बर्फ में बदल जाता है।

एक्सपर्ट ने बताया कि अगर यह बर्फ का टुकड़ा प्लेन से गिरने वाला मल-मूत्र है तो घायल महिला एयरक्राफ्ट (घटनाओं की जांच) अधिनियम, 2012 के तहत मुआवजे की हकदार होगी।

हालांकि, जिला प्रशासन ने इस मामले की जांच कराना जरूरी नहीं समझा। डीएम एके सिंह ने कहा कि मैंने मामले की जांच इसलिए नहीं कराई क्योंकि मुझे लगा यह अफवाह हो सकती है।

लेकिन दिल्ली के रहने वाले एविएशन एक्सपर्ट विमल कुमार ने इस मामले से डीजीसीए और मौसम विभाग को अवगत कराया है। उन्हें इस घटना के बारे में बीते दिनों एक अखबार से पता चला था।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE