students_650x400_81427116656

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर ने ऐसे कारनामे को अंजाम दिया हैं जिसकी चर्चा खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही. माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा जारी कक्षा दसवी के परिणाम में ऐसे छात्र पास हो गए जिन्होंने परीक्षा में हिस्सा नहीं लिया. और कई ऐसे छात्रों को अनुपस्थित बताकर फ़ैल कर दिया गया. जिन्होंने परीक्षा में हिस्सा लिया था.

राजस्थान के नागौर जिले के सरस्वती बाल मंदिर के एक छात्र ने दसवीं की परीक्षा नहीं दी. परीक्षा में हिस्सा न लेने के बावजूद उसे हिंदी में 80 में से 44 मार्क्स आए। इसी तरह जिन छात्रों ने सारे विषयों की परीक्षा दी, उनके रिजल्ट के आगे एबसेंट लिखा हुआ है.

ऐसा एक-दो नहीं बल्कि 19 स्टूडेंट्स के साथ हुआ है. मामला सामने आने के बाद माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अधिकारी ने अपना पल्ला झाड़ लिया है। बोर्ढ ने इसके लिए कॉपी जांचने वालों को जिम्मेदार ठहराया है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें