नई दिल्ली। हिंदुस्तान में सभी जाति, धर्म, रंग के लोग रहते हैं। यहां नस्लभेद जैसी कोई बात नहीं है, पर फेसबुक पर एक महिला को लोगों से ये सवाल पूछना भारी पड़ गया कि वो गर्भवती है और उसे गोरा बच्चा चाहिए, ऐसे में वो क्या करे। महिला के इस सवाल के पूछते ही लोगों ने उसपर तमाम तरह से जुबानी हमला कर दिया। महिला ने भोजन संबंधी बनाए गए एक फेसबुक पेज पर लिखा था, हाय, मेरा एक सवाल है, जो सीधे भोजन से संबंधित नहीं है, पर है भी। दरअसल मैं गर्भवती हूं। और मुझे गोरा बच्चा चाहिए।

MUNICH, GERMANY - MAY 13:  Pregnant women pray during a holy ecumenical mass at the second day of the 2nd ecumenical Kirchentag on May 13, 2010 in Munich, Germany.  (Photo by Alexandra Beier/Getty Images)

ऐसे में क्या कोई सुझाव है कि मैं क्या खाऊं-पियूं? ताकि गोरे बच्चे को जन्म दे सकूं। महिला के इस पोस्ट के बाद लोगों ने उसे रंगभेदी कहते हुए जमकर कोसा। कुछ ने तो भद्दी बातें भी लिखीं। एक व्यक्ति ने जवाब दिया कि आपको किसी गोरे व्यक्ति से शादी करनी चाहिए। और गोरे बच्चे के लिए प्रार्थना करनी चाहिए। मैं तो एक स्वस्थ बच्चा चाहती हूं, पर आपको अपने बच्चे का रंग चुनने का अधिकार है। वहीं, एक अन्य ने टिप्पणी की कि अगर आप भी गोरी हैं, और आपका पति भी।

तब भी आपको गोरे बच्चे के लिए प्रार्थना करनी चाहिएय़ इस दौरान एक व्यक्ति ने महिला पर जोरदार हमला बोलते हुए लिखा, ‘आपको खाने में त्वचा को गोरी करने वाली क्रीम ‘फेयर एंड लवली’ का सेवन करना चाहिए। अगर वाकई आपको गोरा बच्चा चाहिए, तो न्यूट्रीलवा खाईए। पर क्या ये सही है कि जो खाएंगी, उसी हिसाब से बच्चा होगा? ऐसा है तो हरी सब्जियां खाने पर हरे बच्चे क्यों नहीं पैदा होते? ’

इस बीच एक महिला ने टिप्पणी की, कि वो अफ्रीका में रहती है। जहां महिलाएं गर्भावस्था के दौरान दूध पीती हैं, और सेब खाती हैं। फिर भी उनके बच्चे काले ही पैदा होते हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए आपकने जो सवाल पूछा, वो बेहद घटिया था। आइंदा ऐसी बेवकूफी न ही करें।

साभार http://khabar.ibnlive.com/


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें