4bka1df75f241fg69d_800c450

मिस्र में मुर्दा घोषित एक पुलिस अधिकारी उस समय ज़िंदा हो गया जब उसे दफ़्न करने के लिए क़ब्र में उतारा जा रहा था।

मुर्दा पुलिस अधिकारी ऐसी स्थिति में ज़िंदा हो गया, जब उसे कई गोलियां लगने के बाद, डाक्टरों ने मुर्दा घोषित कर दिया था।

मेजर मोहम्मद अल-हुसैनी को जेल तोड़कर फ़रार करने वालों का पीछा करते हुए कई गोलियां लगी थीं।

अल-हुसैनी को घायल अवस्था में अस्पताल ले जाया गया था, जहां डाक्टरों ने उन्हें मुर्दा घोषित कर दिया था।

मेजर मोहम्मद अल-हुसैनी के परिजनों को भी उनकी मौत की ख़बर दे दी गई थी।

प्रशासन ने मेजर को दफ़्न करने की पूरी तैयारी कर ली थी।

डाक्टरों ने अंतिम रिपोर्ट तैयार करने के लिए जब मेजर के शव का अंतिम मुआएना किया तो पाया कि उनका दिल धड़क रहा है और नब्ज़ चल रही है।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें